नई-नई प्रतिभाओं की तारीफ़ कर उन्हें प्रोत्साहित करने को तैयार रहते हैं महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा. इस बार वो एक 60 वर्षीय बुज़ुर्ग के टैलेंट के कायल हो गए हैं. इन्होंने दिव्यांग होने के बावजूद कबाड़ से एक ई-रिक्शा बना डाली है. उन्होंने ट्वीट कर उनसे मिलने और उनकी मदद करने की बात कही है.

इन टैलेंटेड दादा जी का नाम है, विष्णु पटेल, जो गुजरात के सूरत ज़िले के रहने वाले हैं. 60 साल के विष्णु जी जन्म से ही दिव्यांग हैं. वो ठीक से सुन भी नहीं पाते हैं. उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक कबाड़ की मदद से एक ई-रिक्शा तैयार की है.

Source: twitter

उनका एक वीडियो सोशल मीडिया की गलियों से होते हुए आनंद महिंद्रा तक पहुंच गया. निलेश पटेल नाम के शख़्स ने उन्हें टैग करते हुए बताया कि विष्णु जी कितने टैलेंटेड हैं और शायद आनंद जी को उनकी प्रतिभा पसंद आ जाए.

Source: twitter

इस वीडियो को री-ट्वीट करते हुए आनंद महिंद्रा ने लिखा- 'ये शानदार कहानी है, मैं उनसे मिलने पहुंचूंगा और देखूंगा कि क्या मैं उनकी वर्कशॉप में निवेश कर सकता हूं. पर्सनली इन्होंने मुझे इनके जैसे छोटे-छोटे उद्यमियों के लिए अलग से 1 करोड़ रुपये का फ़ंड बनाने के लिए प्रेरित किया है. कई प्रतिभाएं और इनोवेशन पहचान के इंतज़ार में हैं.'

महिंद्रा के ये जवाब लोगों को ख़ूब पसंद आ रहा है. लोग विष्णु जी और महिंद्रा की तारीफ़ करते दिखाई दे रहे हैं. ये देखिए:

देश में टैलेंट की कोई कमी नहीं है, बस ज़रूरत है तो इन छुपी हुई प्रतिभाओं को मौक़ा देने की. आनंद महिंद्रा इन प्रतिभाओं को यही मौक़ा दे रहे हैं. इनकी जितनी तारीफ़ की जाए कम है.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.