कर्नाटक पुलिस ने एक स्कूल के बच्चों व प्रबंधकीय टीम के ख़िलाफ़ देशद्रोह का मामला दर्ज किया है. मामला कर्नाटक के बीदर का बताया जा रहा है. आरोप है कि स्कूल के बच्चों ने एनआरसी और सीएए के ख़िलाफ़ एक नाटक प्रस्तुत कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपमानित किया है.

Source: thelogicalindian

दरअसल, बीते रविवार को बीदर के 'शाहीन एजुकेशन इंस्टीट्यूट' के बच्चों ने एनआरसी और सीएए के ख़िलाफ़ एक नाटक प्रस्तुत किया गया था. सोशल मीडिया पर इसका एक वीडियो वायरल होने के बाद बीदर पुलिस ने स्कूल के बच्चों व प्रबंधकीय टीम के ख़िलाफ़ IPC की धारा 504, 505(2), 124 A, 153 A और 34 के तहत मामला दर्ज किया है.

Source: jansatta

जबकि स्कूल की ओर से बताया गया है कि ये नाटक कक्षा चार के बच्चों की ओर से देश की वर्तमान हालत को बयां करते हुए बनाया गया था.

ये मामला सामाजिक कार्यकर्ता नीलेश रक्ष्याल की शिकायत पर दर्ज किया गया है. शिकायत में कहा गया है कि, नाटक में छोटे-छोटे बच्चे इस तरह की बात करते हुए नज़र आए कि एनआरसी और सीएए के लागू होने से देश के मुसलमानों को हिंदुस्तान से बाहर निकाल दिया जाएगा.

आरोप है कि इसी क्रम में नाटक में एक बच्ची अपनी बात रखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करती हुई नज़र आई. इस दौरान ये भी कहा गया कि एनआरसी और सीएए को लागू न होने देने के कारण एक समुदाय के लोगों को देश छोड़कर जाना पड़ेगा.

Source: thequint

शिकायकर्ता सोशल एक्टीविस्ट नीलेश रख्सायल ने साथ ही कहा है कि इस नुक्कड़ नाटक के ज़रिए ये संदेश देने की कोशिश की गई कि सीएए और एनआरसी से देश के मुसमलानों को बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है. सोशल मीडिया पर शेयर किए जाने के बाद इस वीडियो के ज़रिए समाज में गलत संदेश दे रहा है. वीडियो के ज़रिए सरकार की नीतियों और सरकार के ख़िलाफ़ माहौल बनाया जा रहा है.

Source: thequint

इस नाटक के एक वीडियो को बीदर के मोहम्मद यूसुफ़ रहीम द्वारा सोशल मीडिया पर शेयर किया गया जिसके ये वायरल होने लगा.