कोरोना वायरस पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रहा है. बड़े-बड़े के देशों के इस वायरस से निपटने में पसीने छूट जा रहे हैं. तमाम वैज्ञानिक इस बीमारी का इलाज नहीं तलाश पा रहे. लेकिन भारतीय नेताओं के लिए तो इस बीमारी को ठीक करना चुटकियों का ख़ेल है. जी हां. असम में भाजपा की विधायक ने कोरोना वायरस की रामबाण दवा ढूंढ ली है. बस आपको गोबर और गोमूत्र का जुगाड़ करना पड़ेगा.

मज़ाक नहीं कर रहे. ये बीजेपी विधायक सुमन हरिप्रिया का असम विधानसभा में ऑफ़िशियल स्टेटमेंट है. दरअसल, राज्य विधानसभा में बजट सत्र का पहला दिन था, इस दौरान मवेशियों की बांग्लादेश तस्करी पर चर्चा हो रही थी. उसी वक़्त सुमन हरिप्रिया ने कहा, ‘हम सबको पता है कि गाय के गोबर के कितने फ़ायदे हैं. इसी तरह गोमूत्र का छिड़काव इलाके को शुद्ध करने के लिए भी किया जाता है... मेरा मानना है कि ऐसे ही गोमूत्र और गोबर से कोरोना वायरस भी ठीक हो सकता है.’

Source: newsnation

इतना ही नहीं, उन्होंने गोमूत्र और गोबर से कैंसर के ठीक होने का दावा भी किया. बता दें, ये कोई पहला मामला नहीं है, जब किसी नेता ने ऐसा दावा किया हो. इसके पहले हिंदू महासभा अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज ने भी कुछ ऐसा ही बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि अगर हम गोमूत्र का सेवन करें और संक्रमित व्यक्ति 'ओम नमः शिवाय' का जाप करे और शरीर पर गोबर का लेप लगाए तो वो इस वायरस की चपेट में आने से बच सकता है.

वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तो कोरोना का इलाज योग में तलाश लिया है. ऋषिकेश में चल रहे अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव के उद्घाटन समारोह के दौरान उन्होंने कहा कि मानसिक तनाव पर काबू पा लेने वाले वाला व्यक्ति कोरोना से संक्रमित नहीं हो सकता है.

Source: thenational

‘भारतीय परंपरा को गहराई से समझे जाने की ज़रूरत है और इसके पास योग के ज़रिए देने के लिए शानदार चीज़ें हैं. दुनिया शारीरिक और मानसिक बीमारियों के खिलाफ़ लड़ाई लड़ रही है. योग की मदद से ब्लड प्रेशर, हार्ट अटैक, किडनी फे़ल होना, लिवर फे़ल होना और यहां तक कि कोरोना वायरस जैसी बीमारियों से निपटा जा सकता है.'

बता दें, कोरोना वायरस की चपेट में आकर जान गंवाने वालों की संख्या 3000 के क़रीब हो चुकी है. चीन से निकलकर ये वायरस अब तक क़रीब 70 देशों तक पहुंच चुका है.