दुनियाभर में कोरोना वायरस फ़ैलाने वाले चीन के वुहान शहर में जंगली जानवरों को खाने पर 5 साल का प्रतिबंध लगा दिया गया है. वुहान सरकार की तरफ़ से इस नई नीति को 13 मई को लागू किया गया था, जो अगले 5 साल तक के लिए जारी रहेगी.

Source: edition

चीन के विशेषज्ञों ने जनवरी में कहा था कि कोरोना वायरस वुहान शहर के 'वेट मार्केट' में बेचे जाने वाले जंगली जानवरों से मनुष्यों में आया है. इसके बाद सरकार ने इस मार्केट में जंगली जानवरों को बेचने और खाने पर अस्थायी रोक लगा दी थी, लेकिन अब इस प्रतिबंध को अगले 5 सालों तक के लिए बढ़ा दिया गया है.

Source: businessinsider

चीन के खान-पान में हर तरह के जानवर सबसे बड़ा हिस्सा रहे हैं. ऐसे में 1.1 करोड़ की आबादी वाले वुहान शहर में बैन लगाया जाना एक बड़ा क़दम माना जा रहा है. वुहान के 'वेट मार्केट' में समुद्री भोजन के अलावा कुत्ता, बिल्ली, लोमड़ी, भेड़िये, कोआला, घड़ियाल, मगरमच्छ, सांप, चूहे, चमगादड़, मोर जैसे असंख्य जंगली जानवरों का मांस बेचा जाता है.

Source: vox

उल्लंघन करने पर भारी पेनल्टी

सरकार के इस फ़ैसले के बाद किसी भी संगठन या शख़्स को वाइल्डलाइफ़ या उससे जुड़े उत्पादों के प्रोडक्शन, प्रोसेस, इस्तेमाल या कमर्शियल ऑपरेशन की इजाज़त नहीं होगी. ब्रीडिंग, ट्रांसपोर्ट, ट्रेडिंग, लाना-ले जाना भी अवैध माना जाएगा. यहां तक कि इसे लेकर विज्ञापन, साइनबोर्ड या रेसिपी देने पर भी प्रतिबंध होगा.

Source: independent

अब मेडिकल संगठनों को रीसर्च के लिए जानवर हासिल करने के लिए भी लाइसेंस लेना होगा. इस दौरान ज़मीन के जानवरों और पानी के प्रोटेक्टेड जंगली जानवरों को खाए जाने के लिए आर्टिफ़िशल ब्रीडिंग की इजाज़त भी नहीं होगी. इस दौरान अधिकारी सर्विलांस सिस्टम के ज़रिए इन सब गतिविधियों पर नज़र रखेंगे और उल्लंघन किए जाने पर भारी पेनल्टी लगाई जाएगी. बाज़ारों, रेस्तरां, होटेलों, ई-प्लैटफ़ॉर्म्स और फ़ूड प्रोसेसिंग बिज़नेस का इन्स्पेक्शन किया जाएगा.

जानकारी दे दें कि फ़रवरी में चीन की सरकार ने अस्थायी कानून लागू करके जंगली जानवरों के व्यापार और खाए जाने पर रोक लगा दी थी. इसके बाद हुबेई प्रांत ने मार्च में जंगली जानवरों को खाए जाने पर बैन लगा दिया था. चीन का सालाना वाइल्डलाइफ़ ट्रेड 520 बिलियन युआन का आंका जाता है.

Source: aljazeera

चीन में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के 5 नए मामले सामने आए हैं जबकि 16 मामले ऐसे भी हैं जो बिना लक्षण वाले हैं. 1 दिन पहले इस वायरस से संक्रमित 6 मामले पाए गए थे. पिछले 24 घंटों के दौरान चीन में कोरोना संक्रमण से किसी की भी मौत नहीं हुई है. चीन में कोरोना मरीज़ों की संख्या 82965 हो गई है, जिसमें से 78244 मरीज़ ठीक हो चुके हैं. जबकि इस वायरस से 4634 मरीज़ों की मौत हो गई है.