फ़ेसबुक पर आए दिन कुछ न कुछ वायरल होता रहता है. ऐसे में ही हाल में एक वायरल वीडियो की मदद से 78 वर्षीय बांग्लादेशी व्यक्ति चार दशक से भी ज़्यादा लम्बे समय के बाद अपने परिवार से मिला है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वो एक कारोबारी दौरे के दौरान लापता हो गया था.

Daily Star की एक ख़बर के मुताबिक सिलहट (Sylhet) के बजग्राम में रहने वाले हबीबुर रहमान, जब 30 साल के थे तब एक कारोबारी दौरे के सिलसिले में घर से निकले थे. उनके लापता होने के क़रीब 48 साल बाद वो शहर के एमएजो उस्मानी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अपने परिवार से मिले.

रहमान के बारे में तब पता चला, जब अमेरिका में रहने वाली उनकी सबसे बड़ी बहू ने 17 जनवरी को फेसबुक पर एक वीडियो देखा जिसमें एक व्यक्ति अपने बगल में मौजूद मरीज के लिये आर्थिक मदद मांग रहा था. वीडियो देखते ही उन्हें कुछ शक़ हुआ और तुरंत ये वीडियो अपने पति को दिखाया, जिसके बाद उन्होंने सिलहट में रह रहे अपने भाइयों से पता करवाया.

जल्द ही उन्हें पता चल गया कि वीडियो में दिख रहे व्यक्ति और कोई नहीं उनके पिता ही हैं.

facebook
Source: indiatoday

रहमान का सरियों व सीमेंट का क़ारोबार था. उनके चार बेटे हैं. वर्ष 2000 में उनकी पत्नी का निधन हो गया था.

रहमान बीते 25 सालों से सिलहट के मौलवीबाजार इलाके में रह रहे थे जहां रज़िया बेग़म नाम की एक महिला उनकी देखभाल करती थी. बेग़म ने बताया कि उनके परिवार के सदस्यों को रहमान 1995 में हज़रत शहाबुद्दीन दरग़ाह में मिले थे.

बेग़म ने कहा कि रहमान बढ़ती उम्र संबंधित परेशानियों से ग्रस्त थे और कुछ दिन पहले पलंग से गिरने की वजह से उनका हाथ टूट गया था.

ख़बर के मुताबिक डॉक्टरों ने कहा कि रहमान का ऑपरेशन करना पड़ेगा क्योंकि उनके हाथ में संक्रमण हो गया है, लेकिन उनके पास इलाज के लिये इतने रुपये नहीं है. जिसकी वज़ह से अस्पताल के एक मरीज ने उनकी स्थिति बयान करने के लिये यह वीडियो बनाया और आर्थिक मदद मांगी.