बेंगलुरु के एक परीक्षा हॉल में रोचक नज़ारा देखने को मिला. परीक्षा हॉल में परीक्षा देने पहुंचे स्‍टूडेंट्स के बीच शादी के जोड़े में पहुंची एक छात्रा सबके आकर्षण का केंद्र बन गई. 

24 वर्षीय M.Com की छात्रा हर्षिता की तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा थी जिसे देने वो परंपरागत कन्नड़ लिबास में पहुंची थी. 

हर्षिता शुरू में बेहद ही परेशान थी जब उनकी परीक्षा और शादी एक ही दिन पर पड़ गई थी. परिवार के दवाब में आकर हर्षिता पहले तो अपनी परीक्षा छोड़ने ही वाली थी. मगर बंगलोर विश्वविद्यालय में संस्कृत में अध्ययन और अनुसंधान विभाग के अध्यक्ष, प्रोफ़ेसर डॉ. सी शिवाराजू से राय लेने के बाद हर्षिता ने अपना मन बदल लिया और परीक्षा देने का फ़ैसला किया. 

harshita
Source: deccanherald

उन्होंने हर्षिता को सलाह दी कि पहले वो शादी करलें फिर आ कर परीक्षा दे दें. 

प्रोफ़ेसर, डॉ. सी शिवाराजू ने Deccan Herald को बताया, 

हर्षिता परेशान थी कि क्या वो परीक्षा हॉल समय पर पहुंच पाएगी. मगर मैंने उसको आश्वासन दिया कि मैं परीक्षा केंद्र पर रहूंगा और उसे परीक्षा देने को भी मिलेगा. हर्षिता परीक्षा शुरू होने से 10 मिनट बाद पहुंची थी.

हर्षिता का अपनी शादी के बीच परीक्षा देने का निर्णय बेहद ही सराहनीय है. हर्षिता को जीवन के नए सफ़र के लिए हमारी तरफ़ से ढेरों शुभकामनाएं.