पूरी दुनिया ने 2020 को कोराना वायस के चपेट में आकर बर्बाद होते देखा, हर कोई घरों में बंद अपनी और अपनों की सुरक्षा की कामना कर रहा था. पहली बार इतनी भारी मात्रा में लोगों ने एक दूसरे की हर संभव मदद करने की कोशिश की. 

बहुत कुछ बदला इस कोरोना ने. लेकिन एक चीज़ छोड़ कर, धोखा और कालाबाज़ारी. जी हां, मार्केट में नकली कोरोना वैक्सीन बेझिझक बिक रही है. कीमत चार से छ हज़ार रुपये. 

Source: portswigger

ये वैक्सीन ऑनलाइन बिक रही है और इसको बेचने वाली वेबसाइट हू-ब-हू आपको असली सरकारी वेबसाइट जैसी ही दिखेगी. वेबसाइट बनाने वाले लोगों ने उसकी थीम तक कॉपी कर ली है. बस ध्यान देने वाली बात ये है कि इस नकली वेबसाइट में आपको वैक्सीन ख़रीदने के लिए अपॉइंटमेंट लेने का कॉलम भी है. जबकि असली वेबसाइट में ऐसी कोई बात नहीं लिखी है.

गंभीर बात ये है कि कोरोना ने हम सब के अंदर डर बैठाया है और उसी डर का फ़ायदा उठाने की कोशिश में हैं नकली वैक्सीन बेचने वाले.

Source: tv9

भारत सरकार और स्वास्थ विभाग ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है कि कोरोना की नकली वैक्सीन ऑनलाइन बेची जा रही है और इससे बच कर रहने की बात कही गई है. हालांकि अभी तक इसे किसने बनाया ये बात सामने नहीं आई है और साइबर सेल के लोग इसके बारे में जानकारी निकालने में जुटे हैं.

Source: pixbay

ऐसा नहीं है कि नकली कोरोना वैक्सीन सिर्फ़ हमारे देश में सामने आई है, बल्कि चीन, स्विज़रलैंड जैसे कई देशों में नकली वैक्सीन का कारोबार चल रहा है. नकली दवाई से हमें सिर्फ़ हमारी जागरूक्ता ही बचा सकती है.