बिहार की राजधानी पटना समेत आस-पास के इलाकों में बाढ़ का कहर जारी है. बाढ़ के कारण अब तक कुल 40 लोगों की मौत हो चुकी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात कर राज्य में बाढ़ के हालातों की जानकारी ली.

Source: indiatoday

बीते कई दिनों से राजधानी पटना समेत बिहार के कई ज़िले लगातार बारिश के चलते बाढ़ की चपेट में हैं. तक़रीबन 15 से ज्यादा ज़िलों में बाढ़ का प्रकोप कुछ इस कदर है कि लोग जान बचाने के लिए मारे फ़िर रहे हैं. बारिश के कारण जलमग्न इलाकों में राहत और बचाव कार्य तेज़ कर दिया गया है.

Source: intoday

केंद्र सरकार ने वायुसेना के दो हेलीकॉप्टर भी उपलब्ध कराए हैं, ताकि बाढ़ पीड़ितों के लिए खाने के पैकेट गिराए जा रहे हैं. इसके बावजूद बाढ़ प्रभावित इलाकों में खाने से लेकर पीने का पानी तक उपलब्ध नहीं है. प्रशासन से मदद न मिलने से लोगों के बीच नाराज़गी है.

बारिश के बाद आए बाढ़ के पानी से सिर्फ़ आम आदमी ही नहीं बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी बच नहीं पाए. बीते सोमवार को सुशील कुमार मोदी के राजेंद्र नगर स्थित आवास में भी पानी घुस गया था. जिसके बाद एनडीआरएफ़ की टीम ने वहां पहुंचकर उनके परिवार को बाहर निकाला.

सुशील कुमार मोदी ही नहीं बल्कि दो पूर्व मुख्यमंत्रियों सतेंद्र नारायण सिंह एवं जीतन राम मांझी के घरों में भी पानी घुस गया.

Source: timesofindia

ANI के मुताबिक़ राज्य में बाढ़ और बारिश की वजह से उत्तर बिहार के कई ज़िलों में राष्ट्रीय राजमार्गो के क्षतिग्रस्त होने की ख़बर भी है. बारिश की वजह से बिजली और अस्पताल जैसी बुनियादी सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. बिहार में स्कूलों को एहतियातन बंद कर दिया गया है. पटना में तकरीबन सभी रेल प्लेटफ़ॉर्म पानी में डूब चुके हैं. सड़क परिवहन और विमान संचालन पर भी असर पड़ा है. लंबी दूरी की कई यात्री ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है.

केंद्रीय जल आयोग की वेबसाइट के मुताबिक़ पटना में गंगा नदी ख़तरे के निशान से एक मीटर ऊपर बह रही है. पटना में खतरे का निशान 48.6 मीटर है जबकि फिलहाल गंगा नदी का पानी 49.57 मीटर तक पहुंच चुका है.

वहीं दूसरी ओर कोसी, गंडक, बागमती, महानंदा जैसी बड़ी नदियों का जलस्तर भी लगातार बढ़ रहा है, जिससे कई जगहों पर बांध टूटने का ख़तरा पैदा हो गया है. जल संसाधन विभाग ने संबंधित अधिकारियों को अलर्ट कर दिया है. ज़िला अधिकारियों से किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के लिए भी कह दिया गया है.

अब बिहार के दो बड़े बॉलीवुड सितारे मनोज बाजपेयी और पंकज त्रिपाठी बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए हैं. इन दोनों ने बिहार की मदद के लिए 'मुख़्यमंत्री राहत कोष' में मदद देने की अपील की है.