हैकरों ने बुधवार को दुनिया के सबसे बड़े राजनेताओं, कारोबारियों और कंपनियों को निशाना बनाया है. इसमें अरबपति कारोबारी एलन मस्क, जेफ़ बेज़ोस, बिल गेट्स और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा तक शामिल हैं. इन सभी के ट्विटर अकाउंट हैक कर लिए गए, जिसे बिटकॉइन स्कैम कहा जा रहा है.

ट्विटर अकाउंट हैक करने के बाद बिल्क़ुल हेराफ़ेरी स्टाइट में स्कैम किया गया है. पैसा डबल करने के नाम पर लोगों को चूना लगाया गया है. दरअसल, इन सभी के अकाउंट से फ़र्ज़ी ट्वीट किए गए कि बिटकॉइन में भेजे गए पैसों को दोगुना करके वापस लौटाया जाएगा. यानि कि आप 1,000 हज़ार डॉलर भेजिए और 2,000 डॉलर वापस पाइए.

बिल गेट्स के अकाउंट से किए गए ट्वीट में कहा गया, ‘हर कोई मुझसे समाज को वापस लौटाने के लिए कहता रहा है, अब वो समय आ गया है. आप मुझे एक हज़ार डॉलर भेजिए मैं आपको दो हज़ार डॉलर वापस भेजूंगा.’

बराक ओबामा के ट्विटर अकाउंट से भी कोरोना महामारी के नाम पर कुछ ऐसे ही ट्वीट किए गए. बता दें, अमरीका के मशहूर रैपर कानये वेस्ट और डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन के साथ ही उबर और एपल के अकाउंट भी हैक किए गए.

इन सभी ट्वीट्स को पोस्ट किए जाने के चंद मिनट के अंदर ही डिलीट कर दिया गया. लेकिन तब तक लाखों डॉलर्स के वारे-न्यारे हो चुके थे.

इस कांड का ख़ुलासा होते ही ट्विटर हरकत में आ गया है. उसने कहा है कि जब तक इस घटना की जांच की जा रही है, पासवर्ड रीसेट नहीं किए जा सकेंगे और ट्वीट भी नहीं किए जा सकेंगे. फ़िलहाल ट्विटर इस मामले की जांच कर रहा है.

अब ज़ाहिर सी बात है कि जब इत्ते बड्डे-बड्डे ब्लू टिक वाले अकाउंट हैक होंगे तो हमारे मीमधारी कहां शांत बैठने वाले हैं. ट्विटर पर ही ट्विटर की सुलगाए पड़े हैं.

अच्छा है गुरू, अपन के पास न पैसा है और न ही ट्विटर पर ब्लू टिक. सादा जीवन और टुच्चे विचारों के साथ मौज जारी है.