भाजपा के अध्यक्ष और देश भर के मोटा भाई (बॉडी शेमिंग नहीं है, गुजरात में बड़े भाई को मोटा भाई कहते हैं, 'बाग़बान' में देखा था) का आज बर्थ डे है. 22, अक्टूबर साल 1964 को मुंबई में जन्मे अमित शाह आज 55 साल के हो गए. राजनीति की छोटी-छोटी सीढ़ियां चढ़ते हुए साल 2014 से अमिता शाह सत्ताधारी पार्टी की शीर्ष पर बैठे हैं, साथ ही साथ देश के गृह मंत्री भी हैं. 

Source: India Today

जब जब भाजपा को किसी राज्य में कुर्सियों की कमी पड़ी है, अमित शाह ने इंतज़ाम किया है. सरकार बनाने गिराने के मामले में इन्हें राजनीति का चाणक्य कहा जाता है. जहां सब की राजनीतिक समझ ख़त्म होती है. अमित शाह वहां से चलना शुरू करते हैं. अमित शाह के अध्यक्ष बनने के बाद कुछ ही चुनाव ऐसे हुए हैं, जिसमें भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है. 

गृह मंत्री बनने के बाद अमित साह ने भारत की राजनीति का सबसे बड़ा फ़ैसला लिया और अनुच्छेद 370 को ख़त्म कर दिया. अब इसका परिणाम क्या निकलेगा ये तभी पता चलेगा जब कश्मीर में हालात पूरी तरह सामान्य हो जाएंगे. 

ट्विटर पर #HBDayAmitShah और #HappyBirthdayAmitShah टॉप ट्रेंड कर रहा है. राजनेता से लेकर कार्यकर्ता तक शुभकामनाएं दे रहे हैं, कुछ सामान्य तरीके से तो कुछ मज़ाकिया रास्ता अपना कर.