भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली के महरौली क्षेत्र के ज़िला चीफ़, आज़ाद सिंह ने अपनी पत्नी पर पार्टी ऑफ़िस में ही हाथ उठा दिया. आज़ाद सिंह की पत्नी, सरिता चौधरी दक्षिण दिल्ली की मेयर रह चुकी हैं.


News18 की रिपोर्ट के मुताबिक़ पार्टी लीडर्स का कहना है कि आज़ाद सिंह और उनकी पत्नी के बीच मन-मुटाव चल रहे थे और आज़ाद ने तलाक़ के लिए आवेदन दे दिया है.

इस घटना के बाद बीजेपी ने आज़ाद को महरौली के ज़िला प्रेसिडेंट पद से हटा दिया गया. दिल्ली के बीजेपी प्रेसिडेंट मनोज तिवारी ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए.


NDTV की रिपोर्ट के अनुसार, प्रकाश जावेडकर के साथ मीटिंग के साथ मीटिंग करके बाहर निकलने के बाद झगड़ा शुरू हुआ.

Source: News18

मामले पर आज़ाद ने सफ़ाई देते हुए कहा,

'पहले उसने मुझे गालियां दी और हमला किया. मैंने अपन बचाव करते हुए उसे धक्का दिया था.

दिल्ली पुलिस के अफ़सर ने News18 को बताया,

'हमें अभी तक किसी के तरफ़ से शिकायत नहीं मिली है. शिकायत मिलने पर उचित कार्रवाई की जाएगी.'

हम उम्मीद करते हैं दोषी जो भी हो उसे उचित सज़ा मिले.