किसान आंदोलन में चिकन बिरयानी खाकर बर्ड फ़्लू फ़ैलाने की साजिश रची जा रही है. सरकार को तुरंत इन आंदोलनकारियों को एकत्र होने से रोकना चाहिए, ताकि देशवासियों को बर्ड फ़्लू के प्रकोप से बचाया जा सके. ये कहना है कि राजस्थान में बीजेपी के प्रदेश महामंत्री और विधायक मदन दिलावर का, जिनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

Source: thestatesman

बीजेपी नेता का कहना है कि, इन तथाकथित किसानों को देश की चिंता नहीं है. देश के लोगों की चिंता भी नहीं है. ये आंदोलन नहीं पिकनिक है. वे चिकन बिरयानी खा रहे हैं. काजू-बादाम खा रहे हैं, सब प्रकार के ऐशो आराम कर रहे हैं. ये बर्ड फ़्लू फैलाने का षडयंत्र है. 

उन्होंने आगे कहा, ये लोग सड़कें रोककर बैठे हैं, लोगों को परेशान कर रहे हैं. आंदोलन में भेष बदल-बदल कर लोग आ रहे हैं, इसमें आतंकवादी भी हो सकते हैं, चोर-लुटेरे भी हो सकते हैं जो किसानों के दुश्मन भी हो सकते हैं. ये सभी लोग देश को बर्बाद करना चाहते हैं. सरकार को तुरंत इन लोगों को एकत्र होने से रोकना चाहिए, ताकि देशवासियों को बर्ड फ़्लू के प्रकोप से बचाया जा सके.

Source: ndtv

इस वीडियो को शेयर करते हुए राजस्थान कांग्रेस प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा ने लिखा, ‘भाजपा, राजस्थान के विधायक मदन दिलावर जी का किसानों के लिए आतंकवादी, लुटेरे जैसे शब्दों का इस्तेमाल करना शर्मनाक है. जिस अन्नदाता ने आपके पेट में अन्न पहुंचाया उनके आंदोलन को आप पिकनिक बता रहे हैं, बर्ड फ्लू के लिए ज़िम्मेदार बता रहे हैं? आपका ये बयान भाजपा की सोच दर्शाता है.’

बता दें, कृषि कानूनों के ख़िलाफ़ किसान एक महीने से ज़्यादा समय से दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे हैं. कड़ाके की ठंड के बीच किसान सड़कों पर ही डेरा डालकर बैठे हैं. अब तक सरकार और किसानों के बीच आठ राउंड की बातचीत हो चुकी है, जिसमें दोनों के बीच कुछ ख़ास सहमति नहीं बन पाई. 

अब 15 जनवरी को फिर से बातचीत होनी है. लेकिन इस बीच बीजेपी विधायक मदन दिलावर के विवादित बयान के बाद ये बातचीत भी कितनी पॉज़िटिव रहती है, ये देखने वाली बात होगी. गौरतलब है कि किसान 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर बड़ी ट्रैक्टर रैली निकालने की तैयारी कर रहे हैं.