बीजेपी ने लोकसभा 2019 में 'मैं भी चौकीदार' कैंपेन के तहत चुनाव प्रचार किया था. इसी के साथ नरेंद्र मोदी और सभी बड़े नेताओं ने ट्विटर पर अपने नाम के आगे 'चौकीदार' लगा लिया था.

नेताओं से प्रेरित होकर कई बीजेपी समर्थकों ने भी अपने नाम के आगे चौकीदार लगा लिया था.


आज मतगणना के दिन रुझानों के आधार पर बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिल रहा है. इसके बाद ही नरेंद्र मोदी, अमित शाह और बीजेपी के कई बड़े नेताओं ने अपने नाम के आगे से 'चौकीदार' हटा लिया.

प्रधानमंत्री मोदी ने नाम के आगे से 'चौकीदार' हटाने के साथ ही एक ट्वीट में लिखा,


'देशवासी चौकीदार बने और बहुत सेवा की. जातिवाद, सांप्रदायिकता, भ्रष्टाचार आदि बुराइयों से लड़ने के लिए चौकीदार शब्द एक बहुत बड़ा प्रतीक बन गया है.'

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा,


'अब वक्त है चौकीदार की भावना को अगले लेवल तक ले जाने का. इस भावना को जगाए रखें और भारत की तरक्की के लिए कार्यरत रहें चौकीदार शब्द मेरे ट्विटर से जा रहा है पर ये मेरा अभिन्न हिस्सा है. आप सब से भी मैं यही आशा रखता हूं.'