बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत का बांद्रा वेस्ट के पाली हिल रोड पर स्थित आलीशान दफ़्तर पर बीएमसी का हथौड़ा चल गया है. बीएमसी ने JCB चलाकर कंगना के ऑफ़िस का एक हिस्सा गिरा दिया. इस बीच 'बॉम्बे हाईकोर्ट' ने इस तोड़फोड़ पर रोक लगा दी है.

कंगना ने बीएमसी की इस कार्रवाई के ख़िलाफ़ बॉम्बे हाईकोर्ट में अपील की थी, जिसके बाद 'बॉम्बे हाईकोर्ट' ने बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी है. हालांकि, कोर्ट ने जब रोक लगाने का आदेश जारी किया, तब तक बीएमसी की टीम दफ़्तर तोड़कर लौट चुकी थी. अब इस मामले में गुरुवार दोपहर 3 बजे सुनवाई होगी. 

कंगना रनौत के मुंबई पहुंचने से पहले ही बीएमसी के कर्मचारियों ने कंगना के ऑफ़िस के अवैध हिस्‍से पर कार्रवाई शुरू कर दी थी. कंगना दोपहर तक मुंबई पहुंचने वाली हैं. उनका ये ऑफ़िस इसी साल जनवरी में 48 करोड़ की क़ीमत में बनकर तैयार हुआ है. जबकि बीएमसी का कहना है कि कंगना के ऑफ़िस का निर्माण अवैध तरीके से हुआ है. 

बता दें कि कंगना रनौत के ऑफ़िस पर लगे नए नोटिस में बताया गया कि एक्ट्रेस को पहले नोटिस के ज़रिए 24 घंटे का वक्त दिया गया था, जिसके जवाब में उन्होंने 7 दिन का समय मांगा था. लेकिन बीएमसी ने इस पर तत्काल कार्रवाई की है और नया नोटिस लगाकर अवैध निर्माण गिरा दिया.