सब कुछ कितना बढ़िया चल रहा था. 350 रुपये का रिचार्ज कराते थे, एक जीबी नेट मिलता था, जिसमें पूरा महीना आराम से काट लेते थे. फिर एक दिन रिलायंस ने जीयो लॉन्च करके सबकुछ फ़्री कर दिया. शुरुआत के एक साल में तो सब पूरी तरह मुफ़्त था, सिम तक फ़्री में मिल रही थी. जिस एक जीबी में महीना काट लेते थे, अब उसमें दिन निकालना मुश्किल पड़ रहा था. सब कुछ सपने जैसा था. हम एक साल तक टेलिकॉम सेक्टर के 'ला ला लैंड' में जिए.

Source: NDTV

जियो का जब बढ़िया सा कस्टमर बेस तैयार हो गया तब वो तीन महीने की सेवा के लिए साढ़े तीन सौ के आस-पास वसूलने लगा. जब सबकुछ फ़्री था तब तक कोई जियो से मुक़ाबला नहीं कर सकता था. लेकिन जियो के दूसरे फ़ेज़ में आने के बाद बाकी टेलिकॉम ऑपरेटर्स ने भी अपने प्लान सस्ते किए, अब वो जियो से एक सौ के आस-पास ही महंगे था, सेवाएं लगभग जियो के बराबर ही.

10 अक्टूबर से जियो अन्य नेटवर्क पर आउटगोइंग कॉल के प्रति मिनट 6 पैसा चार्ज करेगा. इसके जियो उपभोक्ताओं को कम से कम 10 रुपये से रिचार्च करना होगा और बदले में उन्हें 1 जीबी अतिरिक्त डेटा भी मिलेगा. जहां हम कुछ साल पहले तक 1 जीबी डेटा के लिए 350 रुपये भरते थे, वहां अब एक्स्ट्रा 1 जीबी मिलेगा 10 रुपये. इतनी सी बात के लिए कल ट्विटर पर #BoycottJio ट्रेंड कर रहा है. इतनी सारी बातें जियो के प्रचार के लिए नहीं लिखी गईं हैं. #BoycottJio का ट्रैंड करना बतलाता है कि जियो ने जो बोया, उसने कल वही काटा. 6 पैसे चार्ज़ लगाने से एक बंदा अपना सिम नहीं बदलने वाला, लेकिन इंटरनेट पर हवाई धेमकी दे रहे हैं क्योंकि जियो की वजह से नेट सस्ता हो गया है.

जब सब कुछ मुफ़्त में मिला तो लोगों की मुफ़्त की लत गई, अब सबको लग रहा है, मुफ़्त में इंटरनेट दे रहे हैं अगले साल से रिलायंस वाले बिजली भी मुफ़्त कर देंगे लेकिन यहां तो आउटगोइंग पर पैसा भरने पड़ेंगे. हम सोच रहे थे मुकेश अंबानी को बिज़नेस थोड़ी चलानी है, खैरात बांटनी है.

ख़राब नेटवर्क, स्लो इंटरनेट, कॉल ड्रॉप आदि के लिए #BoycottJio ट्रेंड करता तो लोगों की मांग वाजिब भी लगती लेकिन 6 पैसे के लिए ऐसा ट्रेंड करना बचकाना लगता है. ऊपर से जियो ने इस चार्ज के लिए TRAI के नियमों का हवाला दिया है, इसका मतलब है अन्य ऑपरेटर भी दूसरे नेटवर्क पर आउटगोइंग कॉल के लिए अतिरिक्त चार्ज लेंगे. इसका मतलब जो लोग जियो का बहिष्कार कर रहे हैं, कल दूसरा नेटवर्क पर पैसे बढ़ाए जाएंगे तब उसे भी छोड़ देंगे और चिट्ठियां लिखना शुरू कर देंगे.

ख़ैर #BoycottJio का जैसा भी असर होना हो, उसमें जो मज़ेदार ट्वीट हुए हम वो आपके लिए छांट कर लाए हैं.