दुनिया में ऐसे कम ही लोग हैं जो दूसरों की भलाई के बारे में सोचते हैं. ज़्यादा तादाद तो ऐसे लोगों कि है जो दान वगैरह करने के बाद फ़ोटो खिंचवाना नहीं भूलते. बहुत कम लोग दान करते हैं, दूसरों की भलाई करते हैं और उसका श्रेय भी नहीं लेते.

ऐसा ही किया मिज़ोरम की राजधानी आइज़ोल के एक व्यवसायी ने. इस व्यापारी ने कई लोगों के बैंक का कर्ज़ चुका दिया और वो भी चुपचाप.  

Indian Express की रिपोर्ट के अनुसार एक व्यवसायी ने 4 लोगों का लोन चुका दिया. कोविड19 की वजह से देशभर के कई लोगों का काम-काज रुक गया है. ऐसे कई लोग हैं जिन्हें लोन की किश्त, ईएमआई भरने में दिक्कत आ रही है. 

The Hindu की रिपोर्ट के अनुसार, इस व्यवसायी भी कभी दिवालिया हो गया था. बिना पब्लिसिटी के इस शख़्स ने स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के आइज़ोल ब्रांच में 9,9,365 लाख ट्रांसफ़र किये. 

Source: Story Pick

बीते शुक्रवार को The Hindu से बात-चीत में ब्रांच के असिस्टेंट जनरल मैनेजर, Sheryl Vanchhog ने बताया,

'मैं और मेरे ब्रांच के कुछ लोग उसे जानते हैं. वो कुछ दिन पहले आया और हमसे कुछ ऐसे कर्ज़दारों को चुनने को कहा जो अपना बिज़नेस चलाते हैं. उसने कहा कि वो ऐसे लोगों की मदद करना चाहता है और उसका बजट है 10 लाख.'  

Sheryl ने आगे बताया कि उन्होंने 4 ऐसे कर्ज़दारों को चुना जो लोन चुकाना चाहते हैं पर लॉकडाउन की वजह से उनका बिज़नेस रुक गया है. 

उस शख़्स ने ऑनलाइन पैसे ट्रांसफ़र किए और हमने 13 मई को सभी कर्ज़दारों को फ़ोन करके ख़बर दी और उनके गिरवी रखे काग़ज़ात लौटा दिए.  

लोन चुकाने वाले शख़्स को कर्ज़दारों से मिलने के लिए बुलाया गया पर उसने इंकार कर दिया. बैंक ने चारों की पहचान गोपनीय रखी थी पर एक शख़्स Muana. L. Fanai ने सोशल मीडिया पर लिखकर उस शख़्स का शुक्रिया अदा किया.