इंटरनेट पर एक तस्वीर की बड़ी आलोचना हो रही है, जिसमें एक कैनेडियन दंपती एक दूसरे को चूमते दिख रहे हैं और उनके सामने एक शेर मरा हुआ पड़ा है. इस शेर का शिकार साउथ अफ़्रीका में सफ़ारी के दौरान उस पति-पत्नी ने किया था.

Source: ladbible

Darren और Carolyn Carter ने Legelela Safari में हिस्सा लिया था, इस दौरान उन्होंने कम से कम दो शेरों को मारा, उनकी तस्वीर टूर ऑपरेटर ने अपने फ़ेसबुक पेज़ पर अपलोड किया.

The Mirror के रिपोर्ट के अनुसरा कनाडा के Alberta में रहने वाली ये जोड़ी Taxidermy का व्यापार करती है और ख़ुद को 'संरक्षणवादी' बताती है और बावजूद इसके शिकार में हिस्सा लेती है.

Source: ladbible

सफ़ारी टूर ऑपरेटर ने अपने फ़ेसबुक पेज इनकी फ़ोटो अपलोड कर कैप्शन में लिखा, 'Kalahari की गर्मी में कड़ी मेहनत... बहुत अच्छा. एक भयानक शेर.'

एक दूसरे पोस्ट में लिखा है, 'Kalahari के रेत में जंगल के शेर का शिकार करने जैसा कुछ नहीं है. शिकारियों की टीम को शाबाशी.'

Source: ladbible

जब The Mirror ने उस कैनेडियन कपल से संपर्क किया तो Mr. Carter ने कहा, 'हम इस मामले पर टिप्पणी करने में रुचि नहीं रखते. ये बहुत ही पॉलिटिकल है.'

Legelela में जिराफ़ के लिए 2,400 यूरो, ज़ेब्रा के लिए 2,000 यूरो, और चीता, गेंडा, शेर, हाथी आदि के शिकार के लिए अलग क़ीमत चुका कर, उनका शिकार किया जा सकता है.

ट्रॉफ़ी हंटिंग के ख़िलाफ अभियान चलाने वाले Eduardo Goncalves का मानना है कि उन शेरों को शिकार होने के लिए ही तैयार किया गया था. उन्होंने आगे कहा कि मासूम जानवरों को मारने में कुछ भी रोमैंटिक नहीं है. देख कर ऐसा लगता है कि उन शेरों को चार दीवारी के भीतर मारा गया और उन्हें मार कर सेल्फ़ी खींचने के लिए तैयार किया जाता है.