देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए CBSE ने बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है. CBSE ने 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा रद्द, जबकि 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं.  

ये भी पढ़ें- सोनू सूद ने किया Board Exams का विरोध कर रहे छात्रों का समर्थन, Offline Exams को बताया ग़लत

सीबीएसई के इस फ़ैसले के बाद अब 10वीं के नतीज़े बोर्ड द्वारा तैयार किए गए मापदंड के आधार पर तैयार किए जाएंगे. वहीं 12वीं की परीक्षा की तारीख़ों को जल्द ही फ़ैसला लेगा. सीबीएसई 1 जून को स्थिति की समीक्षा करेगा.  

Source: dnaindia

शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक़, भविष्य में बोर्ड परीक्षाओं की शुरुआत से पहले कम से कम 15 दिनों का नोटिस दिया जाएगा.  

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने कहा कि, 10वीं क्लास के छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली क्लास में भेजा जाएगा. अगर कोई छात्र मूल्यांकन से संतुष्ट नहीं है तो कोरोना से हालात सामान्य होने पर वो परीक्षा दे सकता है.  

Source: economictimes

ये भी पढ़ें- स्कूल-कॉलेज की 12 बातें जो हमको आगे बढ़ने में मदद करती हैं, जानिये क्या हैं वो

बता दें कि अभिभावकों द्वारा सीबीएसई की परीक्षाओं को रद्द करने को लेकर उठ रही मांगों के बीच पीएम मोदी ने आज शिक्षा मंत्रालय के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की थी. इसी बैठक में फैसले के बाद ही शिक्षा मंत्रालय ने परीक्षाओं को रद्द और स्थगित करने की घोषणा की है.  

Source: india

बोर्ड परीक्षाएं रद्द होने के बाद ट्विटर सेना भी एक्टिव हो गयी, सोशल मीडिया पर मीम्स की बाढ़ सी आ गई है.