रविवार की रात को चेन्नई के समुद्री तट पर अद्भुत नज़ारा देखने को मिला.

Sparkling Chennai Beach
Source: Twitter
Bluish Chennai Beach
Source: Twitter

चेन्नई के पूर्वी तट पर Bio Luminescence या Sea Sparkles की वजह से ये नज़ारा दिखा. समंदर में Microplanton, Noctiluca scintillans की अधिक मात्रा की वजह से समुद्र नीला दिखता है. रात में इस जादुई नज़ारे का लुत्फ़ उठाने के लिए कई लोग तट पर पहुंचे. देखने वालों ने बिना समय गंवाए, सोशल मीडिया पर तस्वीरें भी डाल दीं.

बहुत से लोग कुदरत के इस करिश्मे से ख़ुश हैं पर Ecologists और Marine Researchers इसे ख़तरे की घंटी बता रहे हैं.


Coastal Resource Centre की पूजा कुमारी ने कहा,
'Notiluca एक तरह की Algae है जो वहीं होती है जहां ऑक्सीजन की मात्रा कम हो. ये Algae, Diatoms खाती हैं. मछलियां भी इसी का सेवन करती हैं.'

पूजा ने आगे बताया,


'ओमान और तंज़ानिया में ये हफ़्तों तक रहती है जिस वजह से मछलियां मर जाती हैं. ये मछलियों के लिए Death Zone जैसा बना देती है और उन्हें दूर भगा देती है.'

चेन्नई के तटों के नीले चमकीले होने के कारण पर पूजा ने कहा कि बिना जांच के कुछ कहा नहीं जा सकता.

बारिश या ऑक्सीजन की कमी की वजह से. कुछ स्टडीज़ में पाया गया है कि समंदर का तापमान बढ़ने से भी ये Algae पैदा होते हैं. इस पूरी घटना की वैज्ञानिक जांच होनी चाहिए.

- पूजा

पर्यावरण को इंसान ने कितना नुकसान पहुंचाया है, ये किसी से नहीं छिपा है. वक़्त रहते संभल जाएं तो बेहतर है वरना दुष्परिणाम भी हमें ही भुगतने पड़ेंगे.