धरती पर कई तरह की प्रजातियां रहती हैं, जिनमें सबसे बड़ी संख्या में पाई जाने वाली प्रजाति मानव की है. यूं कहा जाए कि इंसान का प्रभुत्व है धरती पर तो गलत नहीं होगा. मनुष्य के पास दिमाग़ और विवेक है. और शायद यही बात इंसान को सबसे अलग बनाती है. मगर एक बार फिर इंसान ने साबित कर दिया है कि धरती पर मानवता और इंसानियत पूरी तरह ख़त्म हो चुकी है. और ये हमारे लिए बहुत ही शर्मनाक है.

Source: fsmedia

इंसानियत को शर्मशार करने वाली ये ख़बर चेन्नई से आ रही है. जहां 30 साल के एक शख़्स को चार नवजात पिल्लों का यौन उत्पीड़न के आरोप में पुलिस ने गिरफ़्तार किया है.

Times Now के अनुसार, इस आदमी की पहचान भास्कर के रूप में की गई है जो माधवराम का रहने वाला है. इस आदमी की ये हरकत सीसीटीवी में कैद हो गई थी. जब वो 14 मार्च को माधवराम के पास एक खाली मैदान में इन पपीज़ का यौन उत्पीड़न कर रहा था.

Source: indiatimes

भास्कर के ख़िलाफ़ ये पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी वो कई बार ऐसा कर चुका है. एनिमल राइट्स एक्टिविस्ट, साईं विग्नेश के मुताबिक़, उन्होंने पिछले महीने MMDA कॉलोनी में सेकेण्ड क्रॉस स्ट्रीट पर इसी शख़्स को पिल्लों का यौन शोषण करते देखा था.

Source: ytimg

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भास्कर के ख़िलाफ़ भारतीय दंड संहिता की धारा 294 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

सवाल केवल ये है कि इंसान जानवर क्यों बनता जा रहा है, क्या धरती पर ज़रा सी भी इंसानियत नहीं बची है, कि अब वो बेज़ुबान जानवरों का यौन शोषण करने पर उतारू हो गया है?