चक्रवाती तूफ़ान निवार चेन्नई पहुंच चुका है. इसलिए वहां पर जमकर बारिश हो रही है. ऐसे में वहां की गलियों में रहने वाले बेज़ुबान जानवर ख़ासकर डॉग्स के लिए रहने-खाने की समस्या खड़ी हो गई है. इसे देखते हुए चेन्नई वासियों ने अपने दिल और घर के द्वार स्ट्रे डॉग्स के लिए खोल दिए हैं. 

चेन्नई के लोग स्ट्रे डॉग्स को अपने घर में पनाह दे रहे हैं. यही नहीं उनके खाने पीने का ख़्याल भी रख रहे हैं. थिरुवेरकाडु के रहने वाले विग्नेश सुकुमार भी उन्हीं में से एक हैं. इन्होंने 6 स्ट्रे डॉग्स को अपने घर में पनाह दी है. उन्हें जैसे ही पता चला कि चक्रवात आने वाला है तो सुकुमार ने डॉग्स को अपने घर के अंदर रख लिया. 

nivar cyclone
Source: indiatvnews

सुकुमार कहते हैं कि पिछली बार जब इलाके में तेज़ बारिश हुई थी तो उनके सामने रहने वाले 13 स्ट्रे डॉग्स(पप्पी) कूड़े के साथ बह गए थे. इसलिए उन्होंने चक्रवात आने के न्यूज़ आते ही स्ट्रे डॉग्स को अंदर रख लिया.

stray dogs amid Nivar cyclone
Source: newindianexpress

उनका कहना है कि सभी स्ट्रे डॉग्स में बीमारियां नहीं होती और न ही वो पागल होते हैं. उनमें से कुछ को अपने घर में लोग पनाह दे सकते हैं. वहीं अवडी की रहने वाली योग लक्ष्मी ने भी 3 डॉग्स को अपने घर में पनाह दी. एक और चेन्नई वासी एम. महेश जो एक मैकेनिक हैं. उन्होंने अपनी वर्कशॉप में 10 स्ट्रे डॉग्स को रखा है. 

stray dogs amid Nivar cyclone
Source: newindianexpress

वो इनका पूरा ख़्याल रख रहे हैं. उनका कहना है कि स्ट्रे डॉग्स को लोग अपने घर में नहीं आने देते. लेकिन मुश्किल हालातों में उनकी मदद ज़रूर करनी चाहिए. वो आपको नुकसान नहीं पुहंचाएंगे. महेश का कहना है कि जब तक तूफ़ान चला नहीं जाता तब तक वो इन स्ट्रे डॉग्स का पूरा ख़्याल रखेंगे. 

सच में चेन्नई वाले बड़े दिल वाले हैं.