मध्यप्रदेश के भिंड में डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर ने एक मिसाल कायम की है. कलेक्टर ने एक प्रोग्राम के दौरान ही सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल के ऊपर सिंगल यूज़ प्लास्टिक का इस्तेमाल करने के लिए हज़ार रुपये का जुर्माना ठोक दिया. यह वाक़या स्कूल के एक प्रोग्राम के दौरान हुआ और डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर वहां मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे.

Source: Latestly

City Forest Department और 57 स्कूल के छात्रों सामुहित प्रयत्न द्वारा आयोजित इवेंट Bio-Diversity के मुद्दे पर आयोजित था. डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर छोटे सिहं को मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाया गया था. समारोह में कई अन्य सरकारी अधिकारी मौजूद थे.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार प्रिंसिपल पी. एस. चौहान अतिथियों के स्वागत के लिए फुल-माला प्लास्टिक में लेकर आए थे. डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर की नज़र उनके ऊपर पड़ गई, ऊपर से आयोजन भी Bio-Diversity जैसे मुद्दे पर था.

प्रिंसिपल साहब से फ़ाइन इवेंट के दौरान ही वसूल लिया गया और इसकी जानकारी मंच पर से दी गई. डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर ने बताया की ये कार्यवाई किसी को अपमानित करने के लिए नहीं किया गया. इसका मुख्य उद्देश बच्चों को सीख देना था.