दिल्ली-NCR में एक बार फिर से AQI 500 के क़रीब पहुंच चुका है. राजधानी की हवा इस कदर ज़हरीली हो गई है कि लोगों का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो रहा है. इसी के चलते सुप्रीम कोर्ट के एक पैनल ने दिल्ली-एनसीआर में पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी है.

Source: ndtv

दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण के स्तर को सीवीयर प्लस कैटेगरी में रखा गया है. 15 नवंबर तक दिल्ली-NCR के सभी स्कूल भी बंद रहेंगे. ईपीसीए ने दिल्ली-एनसीआर में 15 नवंबर तक हॉट मिक्स प्लांट और स्टोन क्रशर के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है.

Source: twitter

केजरीवाल सरकार के ऑड-इवन के फ़ैसले का भी कोई फ़ायदा होता नहीं दिख रहा है. दिल्ली के लोधी रोड इलाके में पीएम 2.5 और पीएम 10 दोनों ही 500 के स्तर पर पहुंच गया है जोकि गंभीर श्रेणी में आता है.

आज 'चिल्ड्रन डे' है. ऐसे में दिल्ली के एक एनजीओ 'प्रयास' ने बच्चों के लिए 'रन फ़ॉर चिल्ड्रन' इवेंट का आयोजन किया. इस दौरान हज़ारों मासूम बच्चों ने ख़तरनाक प्रदूषण के बीच दौड़ लगाई.

इस दौरान कई बच्चों का कहना था कि प्रदूषण ज़्यादा होने के कारण उनसे दौड़ा भी नहीं जा रहा था. बावजूद इसके उन्होंने दौड़ पूरी की. लगातार प्रदूषण के चलते स्कूल बंद हैं इस वजह से पढ़ाई का नुक़सान भी हो रहा है.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया, 'उत्तर भारत में पराली प्रदूषण के कारण बिगड़ते हालात को देखते हुए दिल्ली सरकार ने दिल्ली के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल 15 नवंबर तक के लिए बंद करने का निर्णय लिया है.

मंगलवार शाम चार बजे तक दिल्ली का औसत AQI 425 था जो बुधवार को शाम चार बजे 456 दर्ज किया गया. रोहिणी (494), द्वारका (494), नेहरू नगर (491) और जहांगीरपुरी (488)दर्ज़ किया गया. वहीं फ़रीदाबाद (448), गाज़ियाबाद (481), ग्रेटर नोएडा (472), गुरुग्राम (445) और नोएडा में AQI 479 रहा.