भारत और चीन के बीच डिप्लोमैटिक और मिलिट्री टॉक्स के बीच कुछ नये सैटेलाइट से ली हुई तस्वीरें आई हैं. इन तस्वीरों में पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ़ कन्ट्रोल के आस-पास फिर से चीनी सैनिकों ने टेंट लगाये हैं. गलवान घाटी, जहां एक बार भारत और चीनी सैनिकों के बीच फ़ेसऑफ़ हुआ था, वहीं पर चीनी सैनिकों ने फिर से टेन्ट लगाये हैं. 

Source: Outlook

Indian Express की एक रिपोर्ट के अनुसार, सेना के उच्च अधिकारियों ने इस ख़बर की पुष्टि की है. बीते 15 जून को पीपी-14 (पैट्रोलिंग पॉइंट 14) के पास चीनी सैनिकों के टेन्ट हटाए गये थे, वहां अब फिर से टेन्ट लगाये गये हैं.


ANI की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सैनिकों ने चीनियों के Observation Post जैसे Structure को 15-16 जून की रात को हटाया था. ऐसे ही स्ट्रक्चर पैट्रोलिंक पॉइंट 14 के पास फिर से लगाये गये हैं. Daulat Beg Oldie Sector में भी चीनी सैनिक पीपी-10 और पीपी-13 के पास गतिविधियां कर रहे हैं.  

दोनों देशों की सहमति के बाद भी चीनी सैनिकों द्वारा टेन्ट लगाया जाना कई प्रश्न खड़े करता है.


स्पेस टेक्नोलॉजी कंपनी, Maxar की ये तस्वीरें बीते 22 जून की हैं. ये पॉज़िशन जून 16 से जून 22 के बीच बनाये गये हैं क्योंकि Planet Labs सैटेलाइट की भारतीय-चीनी सैनिक फ़ेसऑफ़ के एक दिन बाद (यानी 16 जून) की तस्वीरों में कोई स्ट्रक्चर नहीं दिख रहे हैं.   

Source: Indian Express

Deccan Chronicle की रिपोर्ट के अनुसार, 15 जून को हुए फ़ेसऑफ़ का ज़िम्मेदार, चीन रक्षा मंत्री ने भारत को बताया है.  


बीते 22 जून को दोनों ही देश Mutual Disengagement पर राज़ी हुए थे.