सोमवार शाम को इंडिया गेट पर उन्नाव रेप सर्वाइवर के लिए न्याय की मांग करते हुए कई लोग जमा हुए. 'तुम अकेली नहीं हो' पोस्टर, प्लेकार्ड लिए लोगों ने उन्नाव सर्वाइवर के लिए अपने फ़ोन के फ़्लैशलाइट्स जलाए.


उन्नाव रेप सर्वाइवर रविवार को एक दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गई थी और अभी वो लाइफ़ सपोर्ट सिस्टम पर है. उसके दो परिजन इस हादसे में मर चुके हैं.

MLA rape accused
Source: NDTV

जांच चल रही है पर हर तरफ़ से एक ही आवाज़ आ रही है कि ये कोई 'दुर्घटना' नहीं थी, ट्रक के नंबर प्लेट पर भी कालिख पुती थी और सर्वाइवर और उसके परिजनों को दी गई सिक्योरिटी भी हादसे के दिन छुट्टी पर थे.


स्वराज अभियान नेता योगेंद्र यादव ने भी विरोध में हिस्सा लिया.

Unnao Rape Survivor
Source: Times of India

रिपोर्ट्स के मुताबिक, रेप के आरोपी विधायक सेंगर और 29 अन्य लोगों के खिलाफ़ रेप सर्वाइवर की हत्या करवाने की साज़िश रचने करने की FIR दर्ज की जा चुकी है.


सर्वाइवर के चाचा की रिहाई की मांग करते हुए परिजनों ने अस्पताल के बाहर धरना दिया. इनकी मांग है कि मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए उनकी रिहाई हो. इसके बाद हाईकोर्ट ने सर्वाइवर के चाचा को 1 दिन के पेरोल पर छोड़ने का आदेश दिया

उन्नाव सर्वाइवर के सपोर्ट में और सरकार से सवाल करते हुए लोगों ने झड़ियां लगा दीं-

अभी भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ या सत्ता पक्ष के किसी बड़े नेता ने इस मामले पर कुछ नहीं कहा है.