तमिलनाडु के एक मैकेनिकल इंजीनीयर एस कुमारस्वामी ने एक इको फ़्रेंडली इंजन बनाया है. ये इंजन पानी से चलेगा. इसे बनाने में 10 साल लगे हैं.

एस कुमारस्वामी ने नवभारत टाइम्स को बताया,

पानी से चलने वाले इंजन को बनाने में उन्हें 10 साल लगे. ये डिस्टिल्ड पानी से चलने वाला अपनी तरह का पहला इंजन है. उन्होंने आगे कहा, वो चाहते थे कि ये इंजन भारत में लॉन्च हो लेकिन प्रशासनिक स्तर पर कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिलने के कारण उन्होंने जापान सरकार से संपर्क किया. इसके बाद Japan External Trade Organisation (JETRO) के तहत कुमारस्वामी को इस इंजन को लॉन्च करने का मौक़ा मिला है.

जैसे ही इसकी जानकारी ट्वीटर के ज़रिए लोगों तक पहुंचाई गई:

भारी संख्या में लोगों ने इस पर प्रतिक्रिया देना शुरू कर दिया और कुमारस्वामी से इस अविष्कार को ख़ूब सराहा.

अगर हमारी सरकार ऐसे प्रयासों की सराहना करे, तो शायद ये अफ़सोस' शब्द हम भारतीयों की ज़िंदगी से निकल जाए.