मध्य प्रदेश पुलिस ने एक स्टैंड अप कॉमेडियन और चार अन्य लोगों (एडवीन एंथनी, प्रखर व्यास, प्रियम व्यास और नलीन यादव) को इंदौर के स्थानीय विधायक, मालिनी सिंह गौड़ के बेटे, एकलव्य सिंह गौड़ की शिकायत के आधार पर हिरासत में लिया.

The Indian Express की रिपोर्ट के अनुसार बीते शुक्रवार को फ़ारूक़ी का एक शो इंदौर के छप्पन दुकान क्षेत्र एक कैफ़े में हो रहा था. बीते शनिवार को पांचों को कोर्ट में पेश किया गया और और कोर्ट परिसर के बाहर ही पुलिस की मौजूदगी में पांचों में से एक शख़्स को मारा गया. 

Source: Free Press Journal

एकलव्य गौर ने पुलिस स्टेशन के बाहर खड़े रिपोर्टर्स को बयान देते हुए कहा,

वो कई बार हिंदी देवी-देवताओं का मज़ाक उड़ा चुका है. मैंने जब मुनव्वर के शो के बारे में सुना तो मैंने टिकट ख़रीदा और शो देखने पहुंचा. जैसा कि उम्मीद थी उसने हिंदू देवी-देवता का मज़ाक उड़ाया और गृह मंत्री अमित शाह का नाम गोधरा दंगों में घसीटा.

                    - एकलव्य सिंह गौर

गौर और उसके साथियों ने शो को रोका और कमिडियन को तुकागंज थाने ले गया और उसके वीडियो जमा किए. 

The Indian Express की रिपोर्ट के अनुसार, फ़ारूक़ी के वीडियो की जांच की गई और हिंदू देवी-देवता का मज़ाक उड़ाने का कोई सुबूत नहीं मिला है.  
तुकागंज पुलिस स्टेशन के टाउन इंस्पेक्टर, कमलेश शर्मा ने The Indian Express से बात-चीत में बताया कि फ़ारूक़ी पर कोई सीधा सुबूत नहीं मिला है.  

हिंदू देवी-देवता या अमित शाह के अपमान का कोई सुबूत नहीं मिला है. 

                    - कमलेश शर्मा, TI

गौर और फ़ारूक़ी के स्टेज पर हो रही बात-चीत के कई वीडियोज़ सोशल मीडिया पर वायरल हुए. गौर ने फ़ारूक़ी पर हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने का इल्ज़ाम लगाया और फ़ारूक़ी उन्हें समझाने की कोशिश करते रहे.  

Instagram पर Jenosa Agnes नामक यूज़र ने पूरी घटना का ब्योरा दिया. Agnes ने बताया कि वो शो में मौजूद थी और जैसा कि बताया जा रहा है वैसा कुछ भी नहीं हुआ. 

'मुनव्वर के स्टेज पर जाते ही एक 'स्ट्रॉन्ग पॉलिटिकल कनेक्शन' वाला एक आदमी स्टेज पर चढ़ गया. उसने बेहद बुरी तरह से फ़ारूक़ी से 'चुप चाप वहां बैठ जा' कहा और अपनी धार्मिक भावनाएं आहत होने की बात कहने लगा.

उस शख़्स ने कहा 'हमारे Religious Sentiments Hurt हुए हैं... गोधरा कांड पर जोक किया... हमारे देवी देवता का मज़ाक उड़ाया... इस्लाम पर जोक क्यों नहीं करता है'  

मुनव्वर ने अपना परफ़ोर्मेंस शुरू ही नहीं किया था. वो स्टेज पर गया ही था. 

मुनव्वर ने बड़े आराम से कहा कि उसका इरादा कभी किसी को Hurt करने का नहीं था और मुनव्वर ने उसे साथ बैठकर शो देखने को कहा. मुनव्वर ने शो को हैंडल किया. उन लोगों की भीड़ चली गई, कुछ लोग रुके.

मुनव्वर ने अब परफ़ॉर्म करना शुरू किया. उसके एक भी जोक में किसी भी धर्म के लिए आपत्तिजनक शब्द नहीं कहे गए थे. उसने 4-5 मिनट के लिए परफ़ॉर्म किया ही होगा, वो अपने दोस्तों के साथ एक दोस्त की शादी में दिल्ली जाने की बात कह रहा था.

कुछ ही देर में वो लोग बाहर आ गये और ऑर्गनाइज़र्स को शो रोकना पड़ा क्योंकि वेन्यू का ओनर पीछे हट चुका था, थोड़े ही देर में पुलिस आ गई और और लोग जमा होने लगे. मुनव्वर, बाक़ी कॉमिक और दर्शकों की सुरक्षा का सवाल था. दर्शकों को एक एक करके बाहर जाने को कहा गया, और जब मुनव्वर और बाक़ी कॉमिक्स को गिरफ़्तार किया गया.

ये हुआ था. मुनव्वर फ़ारूक़ी ने इंदौर शो में कोई आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की. ये फ़ैक्ट समझ लीजिए.

Source: The News Minute

सोशल मीडिया पर कुछ वीडियोज़ वायरल हो रहे हैं जिसमें फ़ारूक़ी के साथ मार-पीट होने की बात साफ़ नज़र आ रही है. सोशल मीडिया पर ही कुछ पोस्ट्स वायरल हो रहे हैं जिसमे कुछ दर्शकों का भी कहना है कि उनके साथ भी हाथा-पाई की गई है.

ट्विटर पर कई आम लोगों और कमिडियन्स ने फ़ारूक़ी का समर्थन किया- 

गौर और फ़ारूक़ी की बात-चीत का पूरा वीडियो-