गुरुवार को भाजपा की राजस्थान इकाई के अध्यक्ष मदन लाल सैनी ने दावा किया कि मुग़ल बादशाह अकबर ने बिकानेर की रानी के साथ, ख़ास महिलाओं के लिए लगने वाले मीना बाज़ार में बद्तमीज़ी की थी. उन्होंने ये भी कहा कि अकबर 'महान नहीं था' और वो मीना बाज़ार में महिलाओं का 'शोषण' करता था.

Source: India Today

मदन लाल सैनी ने कहा, 'पूरी दुनिया को पता है कि अकबर ने 'मीना बाज़ार' की स्थापना करवाई थी, जहां सिर्फ़ औरतें काम करती थी और पुरुषों को वहां जाने की अनुमति नहीं थी. हालांकि वहां वो 'दुष्कर्म' करने जाता था.'

भाजपा अध्यक्ष ने ये बातें जयपुर में मेवाड़ के राजा महाराणा प्रताप की जयंती के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में कही.

मदन लाल सैनी ने ये भी कहा कि अकबर की ये हरकतें इतिहास के पन्नों में दर्ज हैं, वो मीना बाज़ार का आयोजन इसी उद्देश्य से करवाता था.

'राजपूत महिलाएं और बीकानेर की रानी किरण देवी ने अकबर का 'इरादा' भांप लिया था और उसे ज़मीन पर धक्का दे कर, उसके सीने पर छुरी रख कर अपनी जान की मांफ़ी मांगने के लिए मजबूर कर दिया था. तब से मीना बाज़ार बंद हो गया', भाजपा अध्यक्ष ने कहा.

बता दें कि राजस्थान में जब भाजपा सत्ता में थी, तो उस दौरान स्कूल की किताबों में अकबर के नाम के आगे से 'महान' शब्द हटा दिया गया था और ये भी पढ़ाया जाने लगा कि हल्दीघाटी की लड़ाई में अकबर की हार और महाराणा प्रताप की जीत हुई थी.