बिहार. ये वो स्थान है, जहां मरने के बाद भी लोग तरने का इंतज़ार करते हैं. मरे कहीं भी लेकिन पिंड दान करने इस भूमि पर आना ही पड़ता है. यहां की एक और ख़ासियत है. वो ये कि अगर यहां लोग किसी के पीछे पड़ जाएं तो आसानी से पिंड नहीं छोड़ते.

अब कोरोना वायरस को ही ले लीजिए. कितना गदर काट रखा है दुनिया में. जहां देखो एक ही न्यूज़. रोज़-रोज़ एक ही न्यूज़ सुनकर एक बिहारी बाबू नाराज़ हो गए हैं. उन्हें इतना ग़ुस्सा आया है कि उन्होंने चीन के राष्ट्रपति पर ही मुक़दमा ठोक दिया है. अरे मज़ाक नहीं कर रहे. सच्ची-मुच्ची.

Source: siasat

बिहार के मुजफ़्फ़रपुर में कोरोना वायरस से जुड़ा एक बड़ा ही अजीब कह लें या फिर दिलचस्प मामला सामने आया है. मुज़फ्फ़रपुर में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और भारत में चीनी राजदूत सुन वेदोंग के ख़िलाफ़ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

Aninews के मुताबिक़, सुधीर कुमार ओझा नाम के एक शख़्स ने चीनी राष्ट्रपति पर कोरोना वायरस फ़ैलाने की साज़िश रचने का आरोप लगाया है. इस मामले पर सुनवाई 11 अप्रैल को होनी है.

सुधीर ओझा पेशे से एडवोकेट हैं. उनका कहना है कि चीन ने जानबूझकर इस तरह का वायरस बनाया ताकि पूरी दुनिया में दहशत फ़ैला सके.

Source: scmp

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, भारत में अब तक 100 से ज़्यादा लोग इस ख़तरनाक वायरस की चपेट में आ चुके हैं. इनमें 17 विदेशी नागरिक शामिल हैं.

बता दें, कोरोना वायरस का पता पिछले साल दिसंबर में चीन के वुहान शहर में चला था. यहीं से ये वायरस पूरी दुनिया में फ़ैला. 100 से ज़्यादा देशों में क़रीब 1,30,000 लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं. हज़ारों लोगों की जान जा चुकी है. इसे देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया है.