भारत में कोरोना वायरस के कारण हालात बिगड़ते ही जा रहे हैं. देशभर से संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है. भारत में अब तक कुल 1251 लोग इस ख़तरनाक वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. वहीं 39 लोगों की मौत भी हो चुकी है. जबकि 100 मरीज़ ऐसे भी हैं जो इस बीमारी से ठीक होकर घर लौट चुके हैं.

Source: amarujala

आइये जानते हैं कोरोना वायरस के चलते देशभर में अभी तक क्या-क्या हुआ है-

पिछले 24 घंटे में 227 नए मरीज़ मिले हैं, जो अब तक देश में एक दिन में सबसे अधिक मामले हैं. जबकि मंगलवार को 37 नए मामले सामने आए हैं.

महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 7 मरीज़ों ने दम तोड़ दिया. महाराष्ट्र में सबसे अधिक 8 संक्रमितों की मौत हो चुकी है. जबकि कोरोना संक्रमितों की संख्या के मामले में भी महाराष्ट्र (225) सबसे आगे है.

मंगलवार सुबह केरल के तिरुवनंतपुरम में कोरोना पॉजिटिव 68 साल के बुज़ुर्ग की मौत हो गई. मेडिकल कॉलेज के मुताबिक़, बुज़ुर्ग की किडनी फ़ेल हो चुकी थी.

मंगलवार सुबह मध्यप्रदेश के इंदौर में 49 साल की महिला ज़रीन बी ने सोमवार देर रात दम तोड़ दिया. महिला डायबिटीज़ और हाई ब्लडप्रेशर की भी मरीज़ थीं.

Source: bhaskar

दिल्ली के निज़ामुद्दीन के मर्कज़ बिल्डिंग में मौजूद 24 लोग कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं. इसकी पुष्टि दिल्ली के स्वास्थय मंत्री सत्येंद्र जैन ने की है.

सत्येंद्र जैन ने कहा कि, हम संख्या के बारे में निश्चित तो नहीं हैं, लेकिन ये अनुमान है कि 1500-1700 लोग मर्कज़ बिल्डिंग में इकट्ठे हुए थे. 1033 लोगों को अब तक निकाला जा चुका है. उनमें से 334 लोगों को अस्पताल भेजा गया है और 700 को क्वारंटीन केंद्र भेजा गया है.

तेलंगाना सरकार के मुताबिक़, दिल्ली के निज़ामुद्दीन में तब्लीगी जमात में हिस्सा लेने वाले 6 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. निज़ामुद्दीन में 13 से 15 मार्च तक मरकज में एक धार्मिक आयोजन किया गया था. जिसमें क़रीब 2000 लोगों ने हिस्सा लिया था.

पश्चिम बंगाल के हावड़ा ज़िले में कोरोना वायरस से 1 मरीज़ की मौत. इसके साथ ही राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 3 हो गई है. जबकि राज्य में कुल संक्रमित मरीज़ों की संख्या 26 हो गई है.

हाल ही में ईरान से विमान द्वारा राजस्थान लाए गए सैकड़ों लोगों में से 7 लोग कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं. इसके साथ ही राजस्थान में संक्रमित मरीज़ों की संख्या बढ़कर 83 हो गई है.

बिहार के सीतामढ़ी ज़िले में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध के बारे में प्रशासन को जानकारी देने वाले युवक को अपनी जान गंवानी पड़ी. कोरोना हेल्प सेंटर को सूचना देने के कारण इस युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई.

अंडमान और निकोबार में 33 संदिग्धों की जांच हुई जिनमें से 1 व्यक्ति पॉज़िटिव निकला. अंडमान और निकोबार प्रशासन ने बताया कि अब तक 99 सैंपल की जांच की गई है, जिनमें 10 संक्रमित मामले सामने आए हैं.

Source: economictimes

बीते सोमवार को काबुल में फंसे 31 भारतीयों को विशेष विमान से दिल्ली लाया गया. सभी को दिल्ली के छावला स्थित आईटीबीपी के क्वारंटीन केंद्र में भेज दिया गया. इनमें भारतीय राजनयिक भी हैं.