कोई शख़्स मुफ़्त की चीज़ के लिए क्या-क्या कर सकता है. राशन के लिए दुई घंटा लाइन में खड़ा हो सकता है, मसालेदार देसी शराब के लिए निकम्मी सरकार को वोट दे सकता है, चार दिन पुरानी बिरयानी शौक से पेल सकता है... वगैरह, वगैरह.

Source: republicworld

लेकिन स्विट्जरलैंड में एक कपल ने तो इन सबसे चार क़दम आगे बढ़कर गदर ही काट दिया. उन्होंने मुफ़्त वाई-फ़ाई के लिए अपनी बेटी का नाम एक इंटरनेट सेवा प्रदाता कंपनी ट्विफी (Twifi) के नाम पर रख दिया. जी हां, इस स्विज़ कपल ने 18 साल तक मुफ़्त में इंटरनेट के बदले अपनी नवजात बेटी का नाम ट्विफिया (Twifia) रख दिया है. 

दरअसल, इंटरनेट कंपनी ने एक अभियान शुरू किया है, जिसके तहत वो कपल्‍स को अपने बच्‍चों के नाम में ब्रांड के नाम का यूज़ करने के लिए प्रोत्साहित कर रही है.

Source: thejakartapost

कंपनी का कहना है कि, 'बस अपने बच्चे के सिविल बर्थ सर्टिफ़िकेट की एक फोटो अपलोड करें. सत्यापन करने के बाद ट्विफी आपको 18 साल तक मुफ़्त में इंटरनेट देगी.'

बेटी का इतना अलग नाम रखने वाले कपल ने खुद का नाम उजागर करने से इनकार कर दिया है. हालांकि, उन्होंने बताया कि जिन पैसों को वो इंटरनेट पर खर्च कर देते, अब वो पैसे उनकी बेटी के सेविंग अकाउंट में जमा होंगे. इस पैसे का यूज़ वो फ़्यूजर में बेटी लिए कार या फिर कुछ भी खरीदने में करेंगे.

कपल ने ये स्वीकार किया है कि उन्हें थोड़ा अजीब तो लग रहा है, लेकिन ये नाम यूनिक भी है. पति ने कहा, 'मैंने इस नाम के बारे में जितनी ज़्यादा देर सोचा, ये मेरे लिए उतना ही यूनिक बनता गया. इसी चीज ने मुझे आकर्षित किया.'

Source: networkworld

वहीं पत्‍नी ने कहा कि अपनी बेटी का ये नाम रखने में उन्हें अपने पति से ज़्यादा सोचना पड़ा. उन्होंने कहा, 'मेरे लिए इस नाम का एक बेहतर अर्थ भी है. ट्विफिया नाम भी कनेक्शन को दर्शाता है. ये एक शाश्वत बंधन के लिए है. दुनिया में बहुत खराब नाम भी हैं. वहीं हम जितनी बार 'ट्विफिया' कहते हैं, ये हमें दिल के उतने ही क़रीब लगता है.'

इस बीच कंपनी के मालिक Philippe Fotsch ने लोगों को भरोसा दिलाया है कि यदि उनकी कंपनी बंद भी हो जाएगी तो वो ख़ुद 18 साल तक लोगों के इंटरनेट का पैसा देंगे.