इन मुश्किल हालातों में जब चारों ओर निराशा का माहौल है और सभी डरे हुए हैं तो ऐसे में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो उम्मीद की किरण बनकर लोगों को हार न मानने की प्रेरणा दे रहे हैं. उन्हीं में से एक हैं लद्दाख के गणित के टीचर. वो कोरोना पॉज़िटिव होने के बावजूद अपने छात्रों को ऑनलाइन पढ़ा रहे हैं ताकि उनकी पढ़ाई में कोई रुकावट न आए.

30 अप्रैल को कोरोना पॉज़िटिव पाए गए इन टीचर का नाम किफ़ायत हुसैन है. ये बीमारी किसी और को न हो इसलिए वो ख़ुद ही लेह के सरकारी आइसोलेशन सेंटर में एडमिट हो गए. यहां उन्होंने अधिकारियों से छात्रों की ऑनलाइन क्लास लेने की इजाज़त मांगी, जिसकी अनुमति मिल गई. उनके जज़्बे को देखते हुए उन्हें स्कूल की तरफ से ऑनलाइन पढ़ाई करने के सारे टूल्स उपलब्ध करवा दिए गए. इसके बाद उन्होंने वहीं से इंटरनेट के माध्यम से 9-10वीं क्लास के बच्चों की क्लास लेना शुरू कर दी.

Covid-19 positive Ladakh teacher takes online classes
Source: twitter

किफ़ायत हुसैन Zoom और YouTube के ज़रिये छात्रों को पढ़ाते हैं. जब इंटरनेट कनेक्शन ठीक नहीं होता तब वो वीडियो बनाकर YouTube पर अपलोड कर देते हैं. इससे छात्रों की पढ़ाई निरंतर जारी रहती है. किफ़ायत हुसैन कहते हैं- 'पढ़ाना सिर्फ़ मेरा काम नहीं बल्कि मेरा जुनून है. मुझे लगा मेरी वजह से बच्चों का कोर्स पीछे छूट जाएगा, जिससे बाद में उन्हें दिक्कत होगी. मेरे पास पढ़ाने की पर्याप्त ताक़त थी. इसलिए मैंने ऑनलाइन क्लास लेने का प्रस्ताव दिया.'

Covid-19 positive Ladakh teacher takes online classes
Source: hindustantimes

किफ़ायत हुसैन लद्दाख के Lamdon Model Senior Secondary School में शिक्षक हैं. उनके इस जज़्बे की क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण ने भी तारीफ़ की है. उन्होंने ट्विटर पर इनकी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- 'किफ़ायत हुसैन गणित के अध्यापक हैं और कोरोना पॉज़िटिव होने के बावजूद आइसोलेशन सेंटर से ही अपने छात्रों की ऑनलाइन क्लास ले रहे हैं. ऐसे लोग प्रेरणा हैं.'

उनके ट्वीट करते ही लोग सोशल मीडिया पर जमकर इस टीचर की तारीफ़ करने में लग गए. आप भी देखिए:

किफ़ायत हुसैन ने लद्दाख के प्रसाशन और अपने स्कूल के इन क्लास को शुरू करने के लिए धन्यवाद कहा है. उन्होंने ये भी बताया कि उनके इस प्रयास से छात्र भी ख़ुश हैं और वो भी उन्हें पूरा सपोर्ट कर रहे हैं. उन्होंने ये भी बताया कि आइसोलेशन सेंटर में उनका ठीक से ख़्याल रखा जा रहा है. वो बहुत जल्द ही स्वस्थ हो कर लौट आएंगे.

सच में किफ़ायत हुसैन किसी मिसाल से कम नहीं. उनके जज़्बे को हमारा सलाम.
News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.