देश के सबसे ज़्यादा कोरोना प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में एक और आपदा दस्तक दे रही है, चक्रवाती तूफ़ान 'निसर्ग' तेजी से महाराष्‍ट्र और गुजरात के तटों की ओर बढ़ रहा है. महाराष्‍ट्र पर ये दोहरी आपदा है. चक्रवात निसर्ग पहले आये चक्रवातों में सबसे घातक हो सकता है, प्रशासन इससे निपटने की तैयारियां कर चुकी है, लोगों के बाहर निकलने पर रोक है. महाराष्ट्र, गुजरात, दमन और दीव, और दादरा और नगर हवेली में हाई एलर्ट पर रखा गया है.

तूफ़ान के कारण मुंबई समेत महाराष्ट्र के ज़्यादातर इलाक़ों में तेज़ हवाओं के साथ बारिश हो रही है. साथ ही गोवा में भी तेज़ बारिश देखने को मिली.

1.

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात 'निसर्ग' आज दोपहर से शाम तक मुंबई से क़रीब 95 किमी की दूरी पर स्थित अलीबाग के पास टकरा सकता है, हवा की रफ़्तार 90-100 किमी प्रति घंटे तक पहुंच गयी है जो बढ़कर 120 किमी प्रति घंटा तक पहुंच सकती है.

2.

सुरक्षा के लिए महाराष्ट्र और गुजरात में एनडीआरएफ की 30 से भी ज़्यादा टीमों को तैनात किया गया है. एक टीम में 45 लोग हैं. एनडीआरएफ के कमांडेंट अनूप श्रीवास्तव ने बताया कि महाराष्ट्र के विभिन्न स्थानों(समुद्री बेल्ट क्षेत्रों) से लगभग 40000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा गया है.

Source: twitter

3.

महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे ने लोगों से अगले दो दिनों तक घर के अंदर ही रहने की अपील की है उन्होंने कहा है कि यह चक्रवात अन्य चक्रवातों की तुलना में अधिक गंभीर हो सकता है जिनका अब तक राज्य सामना कर चुका है.

Source: timesofindia

4.

मुंबई में धारा 144 लागू की गयी है, समुद्री तटों पर सैर, पार्कों और समुद्र तट के साथ अन्य स्थानों के लिए बाहर निकलने पर रोक है. 

5.

BMC ने भारी बारिश के दौरान अपने घर के अंदर रहने की सलाह दी है साथ ही कहा कि अगर ज़रूरी कारणों की वजह से आपको अपनी कार चलाने की ज़रुरत पड़ती है तो आप हथौड़ा या ऐसी वस्तुओं को साथ रखें जो आपकी कार के दरवाजों के जाम होने की स्थिति में कांच को तोड़ने में आपकी मदद कर सके. 

6. 

निसर्ग तूफान को लेकर पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा: 'भारत के पश्चिमी तट के कुछ हिस्सों में चक्रवात की स्थिति के मद्देनजर स्थिति का जायज़ा लिया. सबके सेहत के लिए प्रार्थना करता हूं. मैं लोगों से अपील करता हूं कि वो हर संभव सुरक्षा और सावधानी बरतें.'


प्रधानमंत्री ने दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत कर उन्हें केंद्र द्वारा हर संभव सहायता प्रदान करने का भरोसा दिया है.

7. 

तूफ़ान के कारण हवाई और रेल यातायात बाधित है. तूफान की वजह से मध्य रेलवे ने कई स्पेशल ट्रेनों का समय बदला है. ये ट्रेनें या तो आज मुंबई आने वाली थी या फिर आज वहां से निकलने वालीं थी. साथ ही तूफ़ान के ख़तरे को देखते हुए इंडिगो एयरलाइंस ने 17 फ्लाइट्स को रद्द कर दिया है. इंडिगो एयरलाइंस की सिर्फ 3 फ्लाईट्स ही आज मुंबई से संचालित होंगी.

छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से मिली जानकारी के मुताबिक़ आज मुंबई एयरपोर्ट से सिर्फ 11 फ्लाइट्स ही उड़ान भरेंगी और 8 फ्लाइट्स यहां लैंड कर पाएंगी.  

8.

मौसम विभाग के अनुसार तूफ़ान बढ़ने से खगोलीय ज्वार के ऊपर 3 से 6.5 फीट ऊंचाई पर स्थित मुंबई, ठाणे और रायगढ़ जिलों के निचले इलाक़ों में बाढ़ आ जाएगी. 

9. 

मुंबई में हज़ारों कोरोना के मरीज़ हैं ऐसे में तूफान की वजह से अस्पतालों की बिजली न जाए, इसके लिए अलग से इंतज़ाम करने के आदेश हैं. कई जगह क्वारनटीन सेंटर खाली कराकर मरीजों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है. 

10. 

चक्रवाती तूफ़ान 'निसर्ग' हाल के दिनों में भारत में आने वाला दूसरा तूफ़ान है. कुछ दिनों पहले चक्रवाती तूफान अम्फन ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही मचाई थी. 

Source: twitter