ऐसे समय में जब पूरा देश पानी की कमी से जूझ रहा है, बारिश के पानी को संरक्षित कर ना हर किसी का फ़र्ज बन जाता है. इसके लिए आपको भारी-भरकम रकम भी ख़र्च करने की ज़रूरत नहीं है. वाटर हार्वेस्टिंग की एक सस्ती सी टेक्नीक इज़ाद की है चेन्नई के शख़्स ने. ये मात्रा 250 रुपये लगाकर 10 मिनट में 225 लीटर पानी संरक्षित कर रहे हैं.

Dayanand Krishnan rainwater harvesting apparatus
Source: newindianexpress

पानी बचाने का ये सस्ता जुगाड़ बनाया है दयानंद कृष्णन ने. ये चेन्नई के चितलापक्कम इलाके में रहते हैं. दयानंद एक पीवीसी का पाइप और 20 रुपये का फ़िल्टर ख़रीद कर लाए. उन्होंने पाइप को छत के पाइप से जोड़कर उसे एक ड्रम की ओर मोड़ दिया.

अब जब भी बारिश होती है तो छत का सारा पानी उस ड्रम में इकट्ठा हो जाता है. इस प्रकार दयानंद 10 मिनट की बारिश में ही करीब 225 लीटर पानी बचा लेते हैं. इस पानी को वो बर्तन धोने, गाड़ी धोने जैसे कार्यों में इस्तेमाल करते हैं.

Dayanand Krishnan rainwater harvesting apparatus
Source: yourstory

दयानंद ने इस बारे में बात करते हुए इंडियन एक्सप्रेस से कहा- ‘मैंने सोचा बारिश के पानी को ऐसे ही नालियों में नहीं बहने देना चाहिए. पहले पांच मिनट तक गंदा पानी पाइप से आता है. क्योंकि उसके साथ छत पर मौजूद मिट्टी-कचरा उसके साथ बह आता है. लेकिन उसके बाद साफ़ पानी बहने लगता है. इसका इस्तेमाल आप पोछा लगाने के लिए कर सकते हैं.’

Dayanand Krishnan rainwater harvesting apparatus
Source: indiatoday

पाइप के आगे लगा फ़िल्टर इस पानी से सभी तरह की अशुद्धियों को निकालने में मदद करता है. दयानंद के अलावा भी चेन्नई के कई लोग शहर में इसी तरह पानी बचाने की कोशिश में जुटे हैं.

Dayanand Krishnan rainwater harvesting apparatus
Source: indiatoday

Sabari Terrace Apartment के लोग अंडरग्राउंड टैंक्स में वर्षा के पानी को स्टोर करते हैं. इस तरह वो एक घंटे की बारिश में 30,000 लीटर पानी स्टोर कर लेते हैं. बारिश के तीन महीने में ये वर्षा जल का इस्तेमाल करते हैं. चेन्नई नगर पालिका भी ऐसे लोगों की मदद करने के लिए आगे आ रही है.