केरल में बड़ी ही अजीब घटना हुई है. यहां एक फ़ोटोग्राफ़र ने एक ऐसे शख़्स की जान बचाई है, जिसे मृत समझ लिया गया था.   

Source: deccanherald

दरअसल, शिवदासन नाम के एक शख़्स के सिर पर चोट लग गई थी. उसे समय पर ट्रीटमेंट नहीं मिला, जिसके बाद उसे मृत मान लिया गया. एर्नाकुलम जिले के पुलिसकर्मियों ने मृतक की तस्वीरें क्लिक करने के लिए फ़ोटोग्राफ़र टामी थॉमस को बुलाया.   

टॉमी जब स्पॉट पर पहुंचे तो उन्हें कुछ अजीब लगा. उन्होंने तस्वीरें क्लिक करना शुरू किया ही था कि उन्हें हल्की सी आवाज़ सुनाई दी. टॉमी ने महसूस किया कि ये आवाज मृत व्यक्ति से आ रही थी. उन्हें संदेह हुआ कि जिसे मृत माना जा रहा है वो शख़्स जीवित हो सकता है. उन्होंने तुरंत ही पुलिस अधिकारियों को इस बारे में जानकारी दी.   

Source: indiatvnews

45 वर्षीय टॉमी क़रीब दो दशक से पुलिस के साथ काम कर रहे हैं. उन्होंने The News Minute को बताया कि, कमरे में रोशनी कम होने के कारण उन्हें स्पष्ट तस्वीर पाने के लिए शरीर के क़रीब झुकना पड़ा. लेकिन जब उन्होंने उस आदमी को सांस लेते हुए सुना, तो उन्होंने तुरंत रिएक्ट किया.   

अब टॉमी का शक यक़ीन में बदल चुका था. वो शख़्स वाकई ज़िंदा था. पलक्कड़ निवासी शिवदासन कलानमसेरी के पास मनालीमुक्कू में किराए के मकान में अकेले रह रहे थे. एक परिचित व्यक्ति ने शिवदासन की मौत की सूचना दी थी. लेकिन जैसे ही पुलिस को शिवदासन के ज़िंदा होने को बारे में पता चला, उसे तुरंत हॉस्पटिल में एडमिट कराया गया. जहां उसका इलाज किया जा रहा है.  

Source: mid-day

बताया गया कि एक बिस्तर के कोने से टकराने के बाद शिवदासन के सिर पर चोट लग गई थी. वो अचेत हो गया था तो लोगों ने उसे मृत समझ लिया था. ये तो शुक्र है कि फ़ोटोग्राफ़र को शिवदासन के ज़िंदा होने की भनक लग गई, नहीं तो हो सकता था कि ज़िंदा रहते ही उनका अंतिम संस्कार भी कर दिया जाता.