बीते बुधवार दिल्ली पुलिस ने 88 वर्षीय ड्रग डीलर राजरानी तोपली को गिरफ़्तार कर सफ़लता हासिल की है. हांलाकि, ये सफ़लता पुलिस को पहली बार नहीं मिली है, इससे पहले भी वो 9 बार जेल की हवा खा चुकी है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, राजरानी ड्रग्स का काम करने वाली सबसे उम्रदराज़ महिला हैं. गिरफ़्तारी के वक़्त पुलिस ने उनके पास से करीब 16 ग्राम हेरोइन भी बरामद की है.

Female drug dealer

पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए राजरानी को इंदरपुर इलाके से गिरफ़्तार कर लिया. बताया जा रहा है कि राजरानी की शादी बेहद कम उम्र में हो गई थी, जिसके बाद वो हरियाणा से पश्विमी दिल्ली के इन्दरपुर में आ बसीं. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि वो इस करोबार में 25 साल की उम्र में ही आ गई थीं. पुलिस पूछताछ में पता चला है कि वो पंजाब-यूपी के ड्रग्स डीलर्स के संपर्क में भी थी. पुलिस के मुताबिक, ड्रग डीलर्स उसे ड्रग्स बेचने का काम देते थे.

Drugs
Source: newsd

इसके साथ ही उसने पुलिस को ये भी बताया कि 1990 में पति की मौत के बाद ड्रग्स का कारोबार उसने संभाल लिया. यही नहीं, उसके 7 बच्चे भी थे, जो कि उसके करोबार में उसका हाथ बंटाते थे. ये भी कहा जा रहा है कि इन 7 बच्चों में से 6 की मौत एक्सीडेंट या फिर ड्रग्स की वजह से हुई. बाद में ड्रग्स के इस कारोबार को फ़ैलाने के लिये राजरानी ने इसमें कुछ लोगों को शामिल किया. ये लोग हेरोइन में मिलावट का कार्य करते थे और उसे दिल्ली में मौजूद ग्राहकों को बेचते थे.

Delhi police
Source: indiatoday

डीसीपी मोनिका भारद्वाज के मुताबिक, राजरानी को NDPS एक्ट के तहत गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया गया है. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि नारकोटिक्स स्क्वाड टीम को राजरानी की ख़बर मिली थी. उस समय वो इन्दरपुरी के पास ही एक सप्लायर से मिल रही थी, जो उसे ड्रग्स सौंप रहे थे. इसके बाद पुलिस ने राजरानी के घर पर छापा मार उसे हिरासत में ले लिया.