हम सभी को प्रकृति (पेड़-पौधों) से प्यार करना चाहिए...

ये अनमोल शब्द हमें अक्सर किताबों में ही पढ़ने को मिलते हैं. असल ज़िन्दगी में इंसान आज इतना लालची हो गया है कि उसे इन सबसे कोई फ़र्क नहीं पड़ता. फ़र्क तब पड़ता जब उसे चिलचिलाती धूप से बचने के लिए किसी पेड़ की छांव तलाशनी पड़ती है.

Source: arbordayblog

किसी को फ़र्क पड़े न पड़े लेकिन 'दिल्ली गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी' को ज़रूर पड़ा है. कमेटी ने एक बेहतरीन फ़ैसला लिया है. इस फ़ैसले के तहत गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती वर्ष के अवसर पर दिल्ली के सभी गुरुद्वारों में प्रसाद के रूप में पौधे भेंट किए जायेंगे.

Source: edexlive

जानकारी दे दें कि, गुरु नानक देव जी को प्रकृति से बेहद प्यार था. इसी को देखते हुए गुरुद्वारा कमेटी ने गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में प्रसाद के रूप में पौधे देने का फ़ैसला किया है.

Source: justdial

गुरुद्वारा कमेटी ने पौधे देने से लेकर उसकी देखभाल तक का पूरा प्लान बनाया है. इस प्रोग्राम के तहत दिल्ली के गुरुद्वारों और सिख एजुकेशनल इंस्टीट्यूट में कुल 1 लाख पौधे लगाए जाएंगे. पौधे स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट्स को बांटे जाएंगे. इस दौरान स्टूडेंट्स को पौधे लगाने और उनकी जिम्मेदारी ख़ुद ही उठानी होगी.

Source: indiatimes

'टाइम्स ऑफ़ इंडिया' से बातचीत में गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि, दिल्ली यूनिवर्सिटी के सभी 9 कॉलेजों और आईपी यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स वर्तमान सत्र के दौरान 'गुरु नानक देव जी' को उनकी जयंती के मौके पर उनको 10 पौधे समर्पित करेंगे.

Source: indiatimes

इस बार एक प्लान के तहत स्टूडेंट्स से पौधे लगवाए जाएंगे. स्टूडेंट्स को अपने द्वारा लगाए गए पौधे की साल भर में उसकी स्थिति का फ़ोटोग्राफ़ स्कूल-कॉलेज में जमा करनी होगी. उसी हिसाब से उन्हें इस प्रोजेक्ट में नंबर मिलेंगे. ये नंबर उनके सलाना रिजल्ट में जोड़े जायेंगे. छात्रों द्वारा अभी से ही पौधों को कॉलेज प्रोजेक्ट की तरह ट्रीट किया जा रहा है.