दिल्ली के मुखर्जी नगर के कोचिंग सेंटर, रीडिंग रूम्स के दरवाज़े बंद कर दिए गये हैं. बीते बुधवार को एक नोटिस में उन्हें ऐसा करने के लिए कहा गया. बताया जा रहा है कि ये नोटिस दिल्ली पुलिस द्वारा जारी किया गया है.


सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक पुलिसवाला छात्रों को 24 दिसंबर की शाम में अपने-अपने घर जाने और 2 जनवरी 2020 के बाद आने को कह रहा है.

वहीं डीसीपी नॉर्थ वेस्ट दिल्ली, विजयंता आर्या ने ट्विटर पर लिखा,

'सोशल मीडिया पर मुखर्जी नगर के पीजी/हॉस्टल बंद होने के फ़ेक मैसेज सर्कुलेट हो रहे हैं. हमने इन फ़ेक मैसेजेस के ख़िलाफ़ केस दर्ज कर लिया है. सभी नागरिकों से अपील है कि अफ़वाहों पर ध्यान न दें.'

डीसीपी की बात और वीडियो में पुलिस द्वारा कहे जा रहे शब्द बिल्कुल मेल नहीं खा रहे हैं.


The Indian Express ने पीजी के मालिकों से बात की और पाया कि उन्हें पुलिस द्वारा पीजी बंद करने के निर्देश मिले हैं. बीते मंगलवार रात को एसएचओ, मुखर्जी नगर के नाम के साथ एक नोटिस ऑनलाइन वायरल हो गया. इस नोटिस में सभी पीजी मालिकों को दिसंबर 24 से जनवरी 1 तक पीजी बंद रखने को कहा गया है. ऐसा न करने पर 50 हज़ार का जुर्माना लगाने की 'धमकी' भी दी गई है.

Indian Express की रिपोर्ट के मुताबिक़, बुधवार को इलाके के कई कोचिंग सेंटर बंद थे और लगभग हर जगह क्लासेस सस्पेंडेड थी.

कुछ कोचिंग सेंटर्स ने नोटिस लगाकर रखे थे.

Source: Indian Express

इस पूरे वाकये पर सोशल मीडिया की प्रतिक्रिया-