दिल्ली पुलिस की महिला पेट्रोलिंग टीम को गुलाबी रंग की स्कूटी और हेल्मेट्स दिए गए हैं. अधिकारियों का कहना है कि इससे उन्हें दूर से ही पहचानने में मदद होगी. लेकिन दिल्ली पुलिस का ये कदम विवादों में घिरता दिखाई दे रहा है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस पर सवाल उठाए हैं.

दिल्ली पुलिस की इस पहल का विरोध किया है यूपी के आईपीएस अधिकारी विक्रम सिंह ने. उनका कहना है कि पुलिस कर्मचारियों की वर्दी और उससे जुड़ा सभी सामान एक जैसा होना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस तरह पुलिस ही लैंगिक भेदभाव को बढ़ावा दे रही है. विक्रम सिंह एक रिटायर्ड आईपीएस ऑफ़िसर हैं, जो 2007-2009 तक यूपी पुलिस के महानिदेशक के तौर पर कार्य कर चुके हैं.

Delhi Police women patrol unit
Source: hindustantimes

विक्रम सिंह ने आपत्ति जताते हुए कहा- ‘जब कोई अधिकारी वर्दी पहनता है, तो उसके साथ कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए. यही कारण है कि उसे वर्दी कहा जाता है. सिर्फ़ इसलिए कि वे महिलाएं हैं इसलिए उन्हें गुलाबी रंग के वाहन देना सही नहीं है. ये वर्दी की भावना के विपरीत है.’

वहीं उत्तर-पूर्वी दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमिश्नर वेद प्रकाश सूर्या ने कहा- 'चूंकि दिल्ली पुलिस के महिला और पुरुष कर्मचारी एक ही तरह की ड्रेस पहनते हैं, इसलिए महिला पुलिसकर्मियों को दूर से पहचान पाना मुश्किल होता है. हम सड़कों पर महिला पुलिसकर्मियों की ऐसी टीम चाहते थे जो दूर से पहचानी जा सके और महिलाएं उन तक आसानी से पहुंच सकें'.

Delhi Police women patrol unit
Source: telegraph

ग़ौरतलब है कि दिल्ली पुलिस की 16 महिला पुलिसकर्मियों की ये टीम दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाके में पेट्रोलिंग करती है. ये शहर के दूर-दराज हिस्सों में महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराध को रोकने का काम करती है. इन्हें गुलाबी और सफे़द वाहन दिए गए हैं. इस टीम का गठन इसी साल सितंबर में किया गया था.

इस टीम के सभी मेंबर्स के पास स्कूटी के साथ पिस्तौल भी होती है. ये सुबह 11-1 और शाम को 5-7, दो शिफ़्ट में काम करती हैं. ये वो समय होता है जब लड़कियां स्कूल जाती हैं और शाम को महिलाएं अपने बच्चों के साथ पार्क आदि में घूमने जाती हैं.

Delhi Police women patrol unit
Source: cityspidey

इस दौरान ये टीम अपराधियों से इनकी रक्षा करती है. अधिकारियों ने बताया कि इनकी स्कूटी में एक बैटन(बेंत), हूटर और पेपर स्प्रे भी मौजूद है. ये टीम डीसीपी ऑफ़िस से रोज़ मौजपुर, बाबरपुर, दुर्गापुरी, नंद नगरी, मुख्य वज़ीराबाद रोड, यमुना विहार, भजनपुरा, खजूरी चौक, शास्त्री पार्क, धर्मपुरा जैसे इलाकों में दिन में दो बार पेट्रोलिंग के लिए निकलती है.

बुधवार को इस टीम ने यमुना विहार के पार्क में एक मनचले को तीन छात्राओं को परेशान करते देखा था. महिला पुलिसकर्मियों ने उसका पीछा कर उसे पकड़ कर लोकल पुलिस को सौंप दिया था.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.