अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अक्सर अपने ऊल-जुलूल बयानों के लिए सुर्ख़ियों में रहते हैं. इस बार ट्रंप ने कोरोना वायरस के बचाव को लेकर एक ऐसा बयान दिया है जिसके बाद अमेरिका में हंगामा खड़ा हो गया है. डॉक्टरों और हेल्थ एक्सपर्ट ने अपना सिर पकड़ लिया है.

Source: asiavillenews

दरअसल, अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ने कोरोना वायरस को मात देने के ल‍िए लाइज़ॉल (Lysol) और डेटॉल (Dettol) पीने की सलाह दे डाली. उनकी ये बेतुकी सलाह कई लोगों की जान पर भारी पड़ रही है. ट्रंप की इस ऊल-जुलूल सलाह के बाद न्‍यूयॉर्क में 30 लोगों ने डेटॉल और लाइज़ॉल पी ल‍िया था.

Source: carousell

डोनाल्ड ट्रंप के इस बयान के बाद अमेरिकी पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट को इस बारे में एक एडवाइज़री जारी कर लोगों को बताना पड़ा है कि डेटॉल और लाइज़ॉल से संक्रमण ठीक नहीं हो रहा है.

Source: aajtak

इसके बाद डेटॉल और लाइज़ॉल बनाने वाली कंपनी 'रेकिट बेनक्सिर' ने शुक्रवार देर शाम एक बयान जारी कर लोगों को चेतावनी देते हुए कहा कि कृपया इन्हें न पीएं, ये सेहत के लिए काफ़ी ख़तरनाक हैं, इनसे मौत भी हो सकती है. प्रेसिडेंट ट्रंप के बयान के बाद सोशल मीडिया पर भ्रामक ख़बरें फ़ैलाई जा रही हैं, ये सभी ग़लत हैं.

Source: jantajanardan

कंपनी ने आगे कहा कि ऐसी कोई रिसर्च सामने नहीं आई है जिसमें ये दावा किया गया हो कि उनके प्रोडक्ट कोरोना के इलाज में सहायक हैं. हेल्थ-हाइजीन प्रोडक्ट बनाने वाली एक ग्लोबल कंपनी होने के नाते हमारा फ़र्ज है कि लोगों तक सच पहुंचे. हमारा कोई भी प्रोडक्ट इंसानों के पीने के लिए नहीं बनाया जाता है, इसका इंजेक्शन लेना भी सेहत के लिए नुक़सानदेह साबित हो सकता है.

Source: workstaples

इसके साथ ही हमने अपने हर एक प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल को लेकर लोगों को हेल्थ गाइडलाइंस भी दी हैं, ये जानकारी हर बोतल या पैकेट पर भी लिखी होती है. अगर आपको कोरोना संक्रमण का शक़ है तो कृपया करके डॉक्टर्स की सलाह लें और अस्पताल जाएं.

Source: metroplexsocial

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इससे पहले भी कह चुके हैं कि अप्रैल शुरू होते ही कोरोना वायरस जादू की तरह ग़ायब हो जाएगा. इसी तरह उन्होंने हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन को भी कोरोना के लिए गेम चेंजर बताया था. लेकिन उनके किसी भी दावे को दुनिया का कोई भी वैज्ञानिक सही नहीं बता रहा है.