हम इंसान और कई थल जीव, साथियों, सगे-संबंधियों के मरने पर शोक मनाते हैं. Earth.com News के एक लेख के अनुसार, हाथी, जिराफ़, चिम्पान्ज़ी जैसे जानवर मौत का शोक़ मनाते हैं. 

पर कभी सोचा है कि जल जीव भी अपने साथियों के मरने पर दुखी हो सकते हैं. बीते सालों में कई बार डॉल्फ़िन्स को अपने बच्चे को लेकर तैरते देखा गया है. 

Daily Mail एक रिपोर्ट के अनुसार हाल ही में, ऑस्ट्रेलिया के Dolphin Discovery Centre की एक डॉल्फ़िन (Cracker) अपने मरे बच्चे को लेकर तैरती दिखी. Cracker ने मृत बच्चे को ही जन्म दिया था और वो बार बार उसे पानी की सतह पर ला रही थी और उसके साथ तैर रही थी.  

Source: Blue World

Earth.com News के लेख की माने तो व्हेल और डॉल्फ़िन की 7 प्रजातियां मृतक साथियों का शोक मनाती हैं. कुछ व्हेल भी मरे बच्चे को पानी की सतह से ऊपर लाती रहती हैं.  

Source: Daily Mail

US Whales Org के एक लेख के मुताबिक़ 2018 में Washington State के तटीय क्षेत्र में लुप्तप्राय Orca समुदाय के एक सदस्य को अपने मृत बच्चे के साथ तैरते देखा गया. रिपोर्ट्स की मानें तो इस Orca ने बच्चे के साथ 1000 मील से भी ज़्यादा की दूरी तय की थी.  

Source: US Whales Org

कुछ जीव तो शोक में इतना डूब जाते हैं कि अपना खाने-पीने या सुरक्षा का भी ध्यान नहीं रखते. इस तरह का इमोशनल बॉन्ड मां और बच्चे के बीच में कई बार अलग-अलग सागर और महासागर में देखा गया है. कई बार Pod (डॉल्फ़िन का समूह) के दूसरे सदस्य भी मृत बच्चे को लिए हुए देखे गए हैं. इस तरह के स्वभाव को Postmortem Attentive Behavior (PAB) कहा जाता है.  

डॉलफ़िन में इस तरह की प्रवृत्ति होने का एक और कारण है. बाकी जल जीवों से डॉलफ़िन का ब्रेन मास ज़्यादा है और ये बाकी जल जीवों से ज़्यादा सोशल होती हैं.