चुनाव आयोग ने सभी राजनितिक पार्टियों को अपने किसी विज्ञापन में सेना या उसके किसी भी काम को इस्तेमाल करने से साफ़ मना किया है. चुनाव आयोग का ये बयान उस समय आया है जब पुलवामा अटैक के बाद भारत की तरफ़ से की गयी एयर स्ट्राइक का श्रेय रूलिंग पार्टी को स्वाभाविक रूप से मिल रहा है. ये निर्देश मिनिस्ट्री ऑफ़ डिफ़ेन्स की एक शिकायत के बाद आया है.

Source: Adage India

चुनाव आयोग के इस प्रेस स्टेटमेंट के अनुसार, मिनिस्ट्री ऑफ़ डिफ़ेन्स द्वारा ये बताया गया कि सैनिकों की तस्वीरों को कई राजनितिक पार्टियां, उनके बड़े नेता और कार्यकर्ता अपने विज्ञापन में इस्तेमाल कर रहे हैं और ये साफ़ तौर पर उनके इलेक्शन कैंपेन का हिस्सा है, जो सही नहीं है. उन्होंने इस बाबत इलेक्शन कमीशन को ख़ास निर्देश देने को कहा है.

Source: News18
Source: Etimg

इससे पहले इंडियन नेवी चीफ़, एडमिरल एल. रामदास ने भी एयर स्ट्राइक के राजनीतिकरण पर इलेक्शन कमीशन को पत्र लिख कर अपनी चिंता भी जताई थी.