कुछ ख़बरें आखें नम और मन विचलित कर जाती हैं. उत्तर प्रदेश के बांदा जिले से भी एक ऐसी ही ख़बर सामने आई है, जिसने मन को अंदर से झंकझोर कर रख दिया है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, बांदा जिले में एक पालतू कुत्ते ने सतर्कता दिखाते हुए 30 लोगों की जान बचाई, लेकिन आग के प्रहार से वो ख़ुद नहीं बच सका और हादसे में उसकी मौत हो गई.

Times Now की रिपोर्ट के मुताबिक, ज़िले की चार मंज़िला इमारत में आग लगने पर इस कुत्ते ने भौंक-भौंक सबको सतर्क किया, ताकि लोग सही समय पर अपने घरों से सुरक्षित निकल सकें.

Source: dynamitenews

अचानक हुई इस अनहोनी के बारे में एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया,

कुत्ता आग लगने पर भौंकता रहा, जिसने सभी को सतर्क किया और लोग सुरक्षित रूप से निकलने में कामयाब रहे. इसके बाद सिलेंडर फ़टने से कुत्ते की मौत हो गई.

- प्रत्यक्षदर्शी

Source: sjeverni

इंसानों की जान बचा कर ख़ुद की जान गंवाने वाला ये कुत्ता, जाते-जाते सबकी आंखों में आंसू दे गया है:

बताया जा रहा है कि आग एक फ़र्नीचर शॉप में शॉर्ट सर्किट से लगी थी. इसी बिल्डिंग में ये कुत्ता चौथी मंज़िल पर अपने मालिक के साथ रहता था. ये ऐसी पहली घटना नहीं है, जब बेज़ुबान जानवर ने अपनी जान देकर इंसानों की जान बचाई है. इससे पहले भी कई ऐसे मौके आये हैं, जब कुत्तों ने ये साबित किया है कि उनसे बड़ा वफ़ादार कोई नहीं होता.