देश में कई रियायतों के साथ लॉकडाउन 4 चल रहा है, कोरोना पॉज़िटिव मरीज़ों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी के बीच धीरे-धीरे जीवन वापस सामान्य हो रहा है.


कोविड19 की वजह से लगभग 2 महीने के लिए उड़ान सेवा बंद रखने के बाद Airports Authority of India ने 25 मई से घरेलू उड़ानें शुरू करने का निर्णय लिया है. Standard Operating Procedures (SOPs) के साथ उड़ानें शुरू होंगी.  

Source: Financial Express

यात्रियों के फ़ोन में आरोग्य सेतु ऐप होना अनिवार्य है. इसके अलावा एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग में प्रवेश से पहले यात्रियों को एक थर्मल स्क्रीनिंग ज़ोन से गुज़रना होगा. 14 वर्ष से कम आयु के बच्चों के पास ऐप का होना अनिवार्य नहीं है. 

ऐयरपोर्ट पर मानने होंगे ये नियम- 

- आरोग्य सेतु ऐप पर 'ग्रीन' नहीं पाया जाता है तो उसे यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जायेगी.

- यात्रियों को Departure से 2 घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचना होगा.
- अगर फ़्लाइट 4 घंटे के अंदर है तभी किसी यात्री को टर्मिनल के अंदर जाने की अनुमति दी जायेगी.
- पैसेंजर और एयरलाइन क्रू के आने-जाने की व्यवस्था राज्य सरकार करेगी.
- पर्सनल गाड़ियां और चुनींदा कैब सर्विस को ही यात्रियों और स्टाफ़ को एयरपोर्ट लाने और वहां से ले जाने की अनुमति होगी.
- यात्रियों के बीच दूरी बनाये रखने के लिए सीट्स पर टेप लगाये जायेंगे.
- सभी स्टाफ़ के पास हैंड सैनिटाइज़र और PPE होगा.
- Arrival और Departure सेक्शन में ट्रॉली नहीं होगी. स्पेशल केस में Disinfected ट्रॉली का इस्तेमाल होगा.
- एयरपोर्ट पर एंट्री के समय यात्रियों के सामान को सैनिटाइज़ किया जायेगा.
- एयरपोर्ट के प्रवेश द्वारों, स्क्रीनिंग ज़ोन और टर्मिनल में सोशल डिस्टेंसिंग के मार्क्स और स्टिकर्स लगे होंगे.
- जहां भी एयरपोर्ट कर्मचारियों की यात्रियों से बात-चीत होगी वहां काउंटर्स पर Plexiglas या स्टाफ़ को फ़ेश शील्ड लगाना अनिवार्य होगा.
- जिन कर्मचारियों को बुखार, सांस लेने में तकलीफ़ या खांसी होगी उन्हें एयरपोर्ट में एंट्री नहीं दी जायेगी.
- फ़्लाइट में खाना नहीं दिया जायेगा.
- पहले फ़ेज़ में कैबिन बैगेज अलाउड नहीं है.
- सभी यात्रियों का ग्लव्स और मास्क पहनना अनिवार्य है.
- एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग में कहीं भी अख़बार या मैगज़ीन नहीं मिलेगी.
- कन्टैक्ट कम करने के लिए और भीड़ जमा न हो इसलिए ग्रुप्स में बोर्डिंग करवाई जायेगी.

Source: TAN

पहले फ़ेज़ सभी टियर-1 शहरों से फ़्लाइट सेवाएं शुरू होने की संभावना है. अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें कब शुरू होंगी इस बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दी गई है.