हाल ही में गोरखपुर मेडिकल कॉलेज के 'ऑक्सीजन काण्ड' से बरी हुए डॉ. कफ़ील ख़ान को उत्तर प्रदेश 'STF' टीम ने मुंबई से गिरफ़्तार किया है. कफ़ील ख़ान पर 'अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी' में सीएए के ख़िलाफ़ भड़काऊ भाषण देने का आरोप है.

Source: aajtak

बताया जा रहा है कि डॉ. कफ़ील ख़ान ने पिछले साल 12 दिसंबर को 'अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी' में एक भाषण दिया था. इसके बाद 13 दिसंबर को उनके ख़िलाफ़ अलीगढ़ के सिविल लाइन्स पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 153-A के तहत केस दर्ज किया गया था. बीते बुधवार को STF ने उन्हें मुंबई से गिरफ़्तार किया है.

Source: news18

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, डॉ. कफ़ील ख़ान ने पिछले साल 'अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी' में करीब 600 छात्रों को संबोधित किया था. इस दौरान उन्होंने CAA को लेकर भड़काऊ भाषण दिया. आरोप है कि कफ़ील ख़ान ने छात्रों के बीच साम्प्रदायिक भावना भड़काते हुए दूसरे समुदाय के प्रति घृणा उत्पन्न करने वाला बयान दिया था. इतना ही नहीं उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के ख़िलाफ़ अभद्र टिप्पणी भी की थी.

Source: thelallantop

बताया जा रहा है कि इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने डॉ. कफ़ील ख़ान के पूरे भाषण की वीडियो रिकॉर्डिंग की थी. इसी के आधार पर यूपी पुलिस के सब इंस्पेक्टर दानिश ने डॉ. कफ़ील ख़ान के ख़िलाफ़ अलीगढ़ के सिविल लाइन थाने में मुक़दमा दर्ज कराया था. इसके बाद मामले की जांच STF को सौंपी गई थी.

Source: khabar

जानकारी दे दें कि पिछले कुछ समय से मुंबई के 'मुंबई बाग़' में CAA के ख़िलाफ़ प्रदर्शन कर रहीं महिलाएं अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर हैं. कफ़ील ख़ान को आज 'मुंबई बाग़' में हो रहे प्रदर्शन में शामिल होना था, लेकिन इससे पहले ही यूपी STF ने उन्हें गिरफ़्तार कर लिया.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, उत्तर प्रदेश STF की टीम उन्हें लखनऊ लेकर आ चुकी है.