मुंबई जाने का मौका मिले तो एक बार मरीन ड्राइव के चक्कर भी लगा लेना, अमीरी क्या होती है आपको यहां जाकर पता चल जाएगा. मरीन ड्राइव मुंबई की सबसे ख़ूबसूरत और महंगी जगहों में से एक है. इस जगह पर कई बॉलीवुड स्टार की बड़ी-बड़ी कोठियां भी हैं. अब जगह महंगी है, तो यहां के लोग शौक़ भी महंगे ही रखते होंगे. इसका अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यहां पर पब्लिक टॉयलेट भी 90 लाख रुपये की लागत से बनाया गया है.

livehindustan

90 लाख रुपये टॉयलेट बनाने पर ख़र्च कर दिए आख़िर इस टॉयलेट में ऐसा क्या है भाई?

msn.com

यक़ीन नहीं हो रहा है न! लेकिन ये सच है. मरीन ड्राइव पर एक ऐसा हाईटेक पब्लिक टॉयलेट है, जिसे बनाने में 90 लाख रुपये ख़र्च हुए हैं. इस टॉयलेट की ख़ास बात ये है कि इसमें सोलर पैनल और वैक्यूम तकनीक जैसी सुविधाएं भी हैं क्योंकि इस तक़नीक की वजह से पानी कम ख़र्च होता है. आमतौर पर एक टॉयलेट में फ़्लश के दौरान क़रीब 8 लीटर पानी इस्तेमाल होता है, लेकिन इस नई तकनीक की वजह से फ़्लश में सिर्फ़ 0.8 लीटर पानी ही ख़र्च होगा.

लोग मुफ़्त में कर सकते हैं इस टॉयलेट का इस्तेमाल

bhaskar

दरअसल, 3.7 किमी लम्बे मरीन ड्राइव पर अभी तक एक भी पब्लिक टॉयलेट नहीं था, जिसकी वजह से यहां से गुज़रने वाले लोगों को काफ़ी मुसीबतों का सामना करना पड़ता था. वहीं सुबह जॉगिंग और साइकिलिंग के लिए आने वाले लोग पिछले कई सालों से यहां पर एक टॉयलेट की मांग कर रहे थे. BMC की योजना है कि टॉयलेट का इस्तेमाल करने वाले लोगों से फिलहाल तो कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा, लेकिन दो महीने बाद इसके इस्तेमाल पर लोगों को पैसे चुकाने होंगे.

इस इको-फ़्रेंडली टॉयलेट का निर्माण ‘नरीमन पॉइंट चर्चगेट सिटीज़न एसोसिएशन’ ने करवाया है. जबकि इस टॉयलेट को ‘Samatech Foundation’ की कंपनी JSW ग्रुप ने बनाया है. 6 ब्लॉक के इस टॉयलेट का उद्घाटन बीते सोमवार को ‘शिवसेना के युवा संगठन’ के अध्यक्ष आदित्य ठाकरे ने किया था.

hindilatestly

JSW ग्रुप के एक अधिकारी ने बताया कि ‘इस टॉयलेट के बनने से हर साल लाखों लीटर सीवेज का पानी समुद्र में जाने से रुकेगा’.

ndtv.com

90 लाख रुपये में बने इस टॉयलेट को मुंबई का सबसे महंगा टॉयलेट बताया जा रहा है.