देशभर में चुनाव को लेकर तैयारियां ज़ोरों पर हैं. लोकतंत्र के सबसे बड़े त्यौहार के लिए नेता और जनता सभी उत्साहित हैं और एड़ी-चोटी का ज़ोर लगा रहे हैं. देश की सबसे बड़ी दो पार्टियों ने अपने-अपने घोषणा पत्र भी जारी कर दिए हैं.


इन्हीं सब के बीच देश के पूर्वोत्तर स्थित असम से एक शर्मनाक ख़बर आई है.

NDTV के मुताबिक 7 अप्रैल को असम के बिस्वनाथ में भरे बाज़ार में एक 68 वर्षीय मुसलमान के साथ बदसलूकी की गई.


भीड़ को शक था कि शौकत अली गौमांस बेच रहा है. भीड़ ने उसके साथ मार-पीट की और ज़बरदस्ती सुअर का मांस खिलाने की कोशिश की.

Source: The Kashmir Monitor

सोशल मीडिया पर शौकत का वीडियो शेयर किया जा रहा. वीडियो में भीड़ उससे पूछती है कि वो गौमांस क्यों बेच रहा है और क्या उसके पास इसका लाइसेंस है?


गुस्साई भीड़ शौकत से उसके राष्ट्रीयता के बारे में भी पूछती है कि कहीं वो बांग्लादेशी तो नहीं, या फिर क्या उसके पास National Register of Citizen (NRC) Certificate है?

वीडियो बहुत भयानक और दर्दनाक है इसलिए हम नहीं डाल रहे हैं.

Source: India Today

India Today की रिपोर्ट के अनुसार, शौकत एक लोकल व्यापारी हैं और साप्ताहिक बाज़ार में पिछले 35 वर्षों से व्यापार कर रहे हैं.


शौकत को चोटें आईं हैं और लोकल अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है. रिपोर्ट्स के अनुसार भीड़ ने बाज़ार के मैनेजर कमल थापा के साथ भी बदसलूकी की.

पुलिस ने मामले में दो एफ़आईआर दर्ज कर लिए हैं और इस बात से इंकार किया है कि ये घटना सांप्रादयिक थी.