ऑफ़िस में कभी देर से आना तो कभी जल्दी निकल जाना तो चलता रहता है. कई बार इसका उलट भी होता है. 5-10 मिनट का ऊपर-नीचे वाला मामला आपस की बात समझ भुला दिया जाता है, लेकिन जापानी सरकार को 2 मिनट की गुंजाइश भी क़ुबूल नहीं है. यहां सरकारी ऑफ़िस से महज़ 2 मिनट पहले निकलने का अंजाम कर्मचारियों को अपनी सैलरी कट करवाकर भुगतना पड़ा है.

Source: japantoday

रिपोर्ट्स के मुताबिक, चिबा प्रांत के Funabashi City Board of Education के कई कर्मचारी दो मिनट पहले ही ऑफ़िस से चले गए. इस वजह से उन्हें अपने वेतन में कटौती का सामना करना पड़ा है. 

Sankei News के मुताबिक, एडुकेशन बोर्ड ने बताया कि मई 2019 और जनवरी 2021 के बीच 316 बार सात कर्मचारी ऑफ़िस का समय पूरा होने से पहले ही निकल गए थे. इतना ही नहीं, कर्मचारियों ने अपना डिपार्चर टाइम 5.15 दिखाया, जबकि वो पहले 5.13 पर ऑफ़िस से निकल गए थे. 

Source: etc

ये भी पढ़ें: आख़िर लंच करने के बाद ऑफ़िस में इतनी नींद क्यों आती है भैया? जान लो

बोर्ड के अनुसार, स्टाफ़ कर्मचारियों ने ऑफ़िस से जल्दी निकलने का कारण 5.17 बजे की बस पकड़ना बताया है, क्योंकि अगली बस आधे घंटे बाद शाम 5 बजकर 47 मिनट पर आती है. 

Source: indianexpress

बताया गया कि ऑफ़िस से जल्दी निकलने में एक 59 वर्षीय महिला कर्मचारी उनकी मदद करती थी. इसी महिला पर एटेंडेंस मैनेजमेंट की ज़िम्मेदारी थी. ऐसे में सज़ा के तौर पर उनकी तीन महीने की सैलरी का 10वां हिस्सा काट लिया गया है. वहीं, दो अन्य कर्मचारियों को लिखित चेतावनी दी गई, जबकि चार अन्य को सख़्त नोटिस जारी किया गया है. 

बता दें, जापानी समय के बेहद पाबंद होते हैं. इसका उदाहरण तब देखने को मिला था, जब एक बार ट्रेन अपने डिपार्चर से कुछ सेकेण्ड पहले रवाना हो गई थी, तो राष्ट्रीय रेलवे ने लोगों से औपचारिक तौर पर माफ़ी मांगी थी.