कर्नाटक के रायचूर से निर्भया केस जैसा एक मामला सामने आया है. यहां पुलिस को जंगलों से एक महिला का क्षत-विक्षत और अधजला शव मिला था. पुलिस पहले इसे आत्महत्या का केस समझ रही थी, लेकिन जन आक्रोश के चलते पुलिस ने अज्ञात लोगों के ख़िलाफ हत्या का केस दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया है.

मृतक महिला की पहचान 21 वर्षीय मधु के रूप में हुई है, जो इंज़ीनियरिंग की छात्रा थी. 13 अप्रैल को मधु नवोदय इंज़ीनियरिंग कॉलेज में एग्ज़ाम देने गई थी. उसके बाद से ही वो लापता थी.

Source: MyNation

मधु के माता-पिता ने उसके लापता होने की रिपोर्ट थाने में दर्ज करवाई थी. इसके कुछ दिनों बाद 15 अप्रैल को पुलिस ने मधु का शव कॉलेज के ही पास के जंगल से बरामद किया था. उसका शरीर एक पेड़ से लटका था और उसे जलाने की भी कोशिश की गई थी.

पुलिस के अनुसार उन्हें वहां पर एक सुसाइड नोट भी मिला था. इसलिए पुलिस आत्महत्या का केस दर्ज कर जांच कर रही थी. लेकिन जिन हालातों में मधु का शव मिला, उसे देखकर किसी को भी संदेह हो जाता. मधु के घरवालों को भी उसकी हत्या किए जाने की आशंका हुई.

Source: HS NEWS

सैंकडों छात्रों ने मधु की मौत की जांच करने के लिए आवाज़ उठाई और वो रायचूर की सड़कों पर उतर आए. पहले तो प्रशासन ने मामले को रफ़ा-दफा करने की कोशिश की लेकिन लगातार बढ़ते विरोध के चलते पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया.

ये मामला पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर छाया हुआ है. लोग #JusticeforMadhu के नाम से ट्विटर पर मधु को इंसाफ़ दिलाने की मांग कर रहे हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने एक शख़्स को गिरफ़्तार किया है. आरोपी का नाम सुदर्शन यादव बताया जा रहा है. पुलिस का कहना है कि दोनों पिछले कुछ समय से रिलेशनशिप में थे.

आरोपी के ख़िलाफ धारा 376 के तहत केस दर्ज किया गया है. पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया था, जहां कोर्ट ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.