चुनाव और कुर्सी की रस्साकशी के बीच, नेताओं के एक-दूजे पर तंज कसने के बीच, कल लोक सभा चुनाव 2019 का पहला चरण समाप्त हुआ.


23 मई को देश के आने वाले 5 साल के फ़ैसले के बीच पार्टियां वोटर्स को अपनी ओर खींचने की हर संभव कोशिश कर रही हैं. हर पार्टी के बड़े नेता लगातार रैलियां कर रहे हैं. 

अमित शाह भी एक रैली में थे, पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में. वहां उन्होंने ये बयान दिया.   

हम पूरे देश में NRC लागू करवाएंगे. बौद्ध, हिन्दू और सिखों के अलावा ग़ैरकानूनी ढंग से देश में रह रहे लोगों को बाहर निकालेंगे.

                    - अमित शाह

इस बयान को बीजेपी ने अपने ऑफ़िशियल ट्विटर हैंडल पर भी डाल दिया.  

इसके बाद से ही ट्विटर पर बवाल हो गया. हर बार की तरह लोग दो मतों में बंट गए. 

कुछ लोगों ने रूलिंग पार्टी की हां में हां मिलाई. 

बीजेपी के ट्वीट का कई लोगों ने विरोध भी किया 

पर सभी ट्वीट्स में से अवतार सिंह के ट्वीट ने सभी का दिल जीत लिया. अवतार ने ये लिखा, 

कृपया सिखों को अपने वोट के लिए इस्तेमाल न करें. हम ख़ुश होंगे अगर आप सिखों को अपने ट्वीट से हटा दें. जैसे हिन्दू हमारे भाई हैं, वैसे ही मुस्लिम हमारे भाई हैं और अन्य धर्म के लोग भी...

                    - अवतार सिंह

इस ट्वीट को बीजेपी के ट्वीट से ज़्यादा Likes मिले.

ये ट्वीट और इस पर आने वाले Likes सुबूत हैं कि हमें आपस में बांटने की कितनी भी कोशिशें कर ली जाए, कुछ लोग ऐसे उभर के आएंगे, जो एकता की बात करेंगे.